ब्रेकिंग
खुशखबरी, क‍िसानों के खाते में इस द‍िन आएंगे 2000 रुपये! चेक कर लें अपना नाम महिला टी20 चैलेंज के लिए हरमनप्रीत, मंघाना और दीप्ति को मिली कप्तानी ‘कप्तान आपका चपरासी नहीं’, इंग्लैंड के नए कोच ब्रेंडन मैकुलम के कोचिंग स्टाइल पर जमकर बरसे पूर्व पाक कप्तान भारतीय सेना में सिविलयन पदों की निकली भर्ती RBI ने गोल्ड बॉन्ड प्रीमैच्योर रिडेम्पशन प्राइस किया तय सिगरेट पीते हुए फोटो वायरल करने की धमकी दी तो छात्र ने दे दी जान SBI ने ग्राहकों को एक महीने में दूसरी बार द‍िया झटका, कल से लागू हो गया नया न‍ियम – Officenewz Hindi 1 करोड़ से ज्यादा ग्राहक इस Honda बाइक पर दिखा चुके भरोसा, 5,999 रुपये देकर आप भी लाएं घर इंदौर नगर निगम सीमा में कई मतदाता इधर से उधर हुए, कुछ की मौत तो कई चले गए शहर से बाहर। नया जनरल बीमा लाइसेंस लेने की तैयारी में Paytm

मेला के आखिर दिन को लेकर संशय, एआरटीओ ने कहा- आदेश मिला तो पाेर्टल खोलेंगे

ग्वालियर। ग्वालियर व्यापार मेले के आखिरी दिन को लेकर संशय की स्थिति बनी हुई है। मेले की छूट का पोर्टल रात 12 बजे तक खुला रहेगा, लेकिन सत्यापन नहीं होने की वजह से छूट का लाभ नहीं मिल सकेगा। सोमवार को सत्यापन कराने पर यह मान्य नहीं होगा। मेला 28 मार्च को खत्म हो रहा है। इस कारण रोड टैक्स में 50 फीसद छूट भी 28 मार्च तक है। इस मामले में कलेक्टर कुछ भी कहने से बच रहे हैं। व्यापारियों को मेले से अपने सामान को ले जाने के लिए अनुमति दी है, लेकिन गाड़ियों के सत्यापन काे लेकर भ्रम की स्थित बनी हुई है। एआरटीओ रिंकू शर्मा का कहना है कि प्रशासन ने रविवार को लॉकडाउन घोषित किया है, इसलिए विभाग की ओर से आदेश का उल्लंघन नहीं किया जाएगा। यदि आदेश मिलता है ताे पाेर्टल खाेला जाएगा।

चरणबद्ध ढंग से बंद करें मेला, आरटीओ छूट 15 अप्रैल तक रहे जारीः चैंबर आफ कामर्स ने मेले को एक दम से बंद न करते हुए चरणबद्ध ढंग से बंद करने की मांग की है। साथ ही चैंबर ने मांग की है कि मेले में आरटीओ द्वारा दी जा रही 50 प्रतिशत छूट की अवधि 15 अप्रैल तक जारी रहे। इसके लिए चैंबर ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया, सांसद विवेक नारायण शेजवलकर एवं राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत को पत्र लिखा है। चैंबर ने लिखा है कि जो दुकानदार मेला में 15 अप्रैल से पूर्व अपना व्यवसाय समेटते हैं, उन्हें उनके 15 अप्रैल तक के किराए एवं बिजली अनुपातिक वापिस किए जाएं या अगले साल समायोजित करें। तमाम लोगों ने वाहनों की बुकिंग कराई है, उन वाहनों की डिलीवरी आगामी 15 अप्रैल तक होने वाली है, मगर अचानक से मेला समाप्त कर देने से काफी परेशानी बढ़ गई है।