ब्रेकिंग
उदयपुर हत्याकांड के विरोध में बंद रहा बाजार, चप्पे-चप्पे पर तैनात रहे जवान यूपीएसएसएससी पीईटी नोटिफिकेशन जारी काशी विश्वनाथ धाम में अब बज सकेगी शहनाई, होंगी शादियां प्रदेश में मंत्री से लेकर संतरी तक भ्रष्टाचार में संलिप्त, भ्रष्टाचारियों की गिरफ्तारी के मुद्दे पर आप लड़ेगी निगम चुनाव अज्ञात युवकों ने कॉलेज कैंटीन में बैठे 3 छात्रों पर किया तेजधार हथियार से हमला; 1 की हालत गंभीर सिवनी कोर्ट परिसर में न्यायाधीशों समेत 27 ने किया रक्तदान, वितरित किए प्रमाण पत्र पड़ोस में रहने आयी छात्रा से जान पहचान बना डिजिटल रेप करने वाले आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार लोगों ने की आरोपियों को फांसी की सजा देने की मांग, टायर जलाकर की नारेबाजी 12 जुलाई को देवघर जाएंगे पीएम मोदी रिलायंस जिओ डीटीएच प्लान्स ऑफर और आवेदन की जानकारी | Reliance Jio DTH Setup Box Plan Offer Online Booking Information in hindi

नक्सली हमला: BJP बोली- 22 जवानों की शहादत को परे रख छत्तीसगढ़ सीएम कर रहे असम में चुनाव प्रचार

रायपुर। छत्तीसगढ़ के धुर नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले में शनिवार नक्सलियों के साथ हुए भीषण मुठभेड़ में 22 जवानों ने शहादत दे दी। इसको लेकर देश गु्स्से में है। वहीं, इस बीच छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम रमन सिंह ने राज्य के मुख्यमंत्री पर हमलो बोले है। उन्होंने कहा कि एक तरफ जहां जवानों की मृत्यु हुई और अभी भी दो दर्जन से ज्यादा जवान घायल हैं और तो और कोविड के मामले राज्य में तेजी से बढ़ रहे हैं, इस बीच सीएम भूपेश बघेल असम में चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं।

पूर्व सीएम रमन सिंह ने कहा, ‘ऐसे समय में जब कम से कम 22 जवानों ने अपनी जान गंवाई है और 30 से अधिक जवान घायल हुए हैं, और COVID की मृत्यु दर बढ़ रही है, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री असम में चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं।’ बता दें कि बघेल रविवार शाम असम से लौटे थे।

बस्तर क्षेत्र में 22 पुलिस और अर्धसैनिक बल के जवान मारे गए और कम से कम दो दर्जन अन्य घायल हो गए। तलाशी अभियान के दौरान बीजापुर-सुकमा सीमा के पास एक गढ़ क्षेत्र में सेना पर हमला हुआ। शनिवार को पांच सुरक्षाकर्मियों की मौत की पुष्टि की गई, जबकि रविवार को 18 और शव मिले। हमले के बाद एक जवान लापता था। पिछले 4 वर्षों में यह सबसे बड़ा माओवादी हमला था।

मृतकों में से आठ जिला रिजर्व गार्ड के थे, छह कोबरा कमांडो थे, छह अन्य विशेष टास्क फोर्स (एसटीएफ) के सदस्य थे और एक जवान केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के बस्तरिया बटालियन का था। पुलिस को संदेह है कि मुठभेड़ में एक दर्जन नक्सलियों के मारे जाने की संभावना है। जबकि सीएम भूपेश बघेल ने किसी भी खुफिया विफलता को खारिज कर दिया, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि माओवादियों को उचित समय पर जवाब दिया जाएगा।