ब्रेकिंग
उदयपुर हत्याकांड के विरोध में बंद रहा बाजार, चप्पे-चप्पे पर तैनात रहे जवान यूपीएसएसएससी पीईटी नोटिफिकेशन जारी काशी विश्वनाथ धाम में अब बज सकेगी शहनाई, होंगी शादियां प्रदेश में मंत्री से लेकर संतरी तक भ्रष्टाचार में संलिप्त, भ्रष्टाचारियों की गिरफ्तारी के मुद्दे पर आप लड़ेगी निगम चुनाव अज्ञात युवकों ने कॉलेज कैंटीन में बैठे 3 छात्रों पर किया तेजधार हथियार से हमला; 1 की हालत गंभीर सिवनी कोर्ट परिसर में न्यायाधीशों समेत 27 ने किया रक्तदान, वितरित किए प्रमाण पत्र पड़ोस में रहने आयी छात्रा से जान पहचान बना डिजिटल रेप करने वाले आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार लोगों ने की आरोपियों को फांसी की सजा देने की मांग, टायर जलाकर की नारेबाजी 12 जुलाई को देवघर जाएंगे पीएम मोदी रिलायंस जिओ डीटीएच प्लान्स ऑफर और आवेदन की जानकारी | Reliance Jio DTH Setup Box Plan Offer Online Booking Information in hindi

शहीद राजकुमार के अंतिम दर्शन के लिए उमड़ी अयोध्या, राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार

अयोध्या: रविवार को हुए नक्सली हमले में शहीद हुए कोबरा कमांडो राजकुमार यादव का पार्थिव शरीर कल देर रात अयोध्या उनके पैत्रिक निवास पर पहुंचा। राजकुमार का शव रानो पाली स्थित उनके घर पहुंचा तो पूरे परिवार में कोहराम मच गया। आज पूरे राजकीय सम्मान के साथ सरयू तट पर उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया। उनके पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन के लिए रखा गया था। इसके बाद आज दिन में सरयू घाट पर पूरे राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार हुआ।

बीजापुर में नक्सलियों के हमले में पैरा मिलिट्री फोर्स के 22 जवान शहीद हो गए हैं। इसमें उत्तर प्रदेश के अयोध्या निवासी राजकुमार यादव और चंदौली निवासी धर्मदेव कुमार भी वीरगति को प्राप्त हुए थे। सोमवार को उनका पार्थिव शरीर लखनऊ के चौधरी चरण सिंह अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट लाया गया, यहां से ससम्मान गृह जनपदों को रवाना किया गया। इस दौरान सीआईएसएफ और सीआरपीएफ अधिकारी मौजूद रहे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीदों के परिजनों को 50-50 लाख रुपये की आर्थिक मदद और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की घोषणा की है। छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सलियों के साथ हुई मुठभेड़ में जवानों की शहादत पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गहरा दु:ख व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि राष्ट्र की रक्षा के लिए अदम्य साहस एवं शौर्य का परिचय देकर अपने प्राण न्यौछावर करने वाले वीर जवानों के इस बलिदान को हमेशा याद रखा जाएगा।

उन्होंने शहीद हुए राज्य के दो जवानों अयोध्या के राजकुमार यादव और चंदौली के धर्मदेव कुमार को श्रद्धांजलि देते हुए शहीद के परिजनों को 50-50 लाख रुप्रये की आर्थिक सहायता देने, परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने और शहीद के गृह जिले में उसके नाम पर एक सड़क का नामकरण करने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि शोक की इस घड़ी में प्रदेश सरकार शहीदों के परिवार के साथ है। शहीद जवानों के परिवार की हर संभव मदद की जाएगी।