ब्रेकिंग
आत्मानंद स्कूल के इन छात्रों ने मेरिट लिस्ट में बनाई जगह कथा स्थल में नारियल वितरण के दौरान मची भगदड़, 16 महिलाएं घायल, इधर 576 दिन से नर्मदा परिक्रमा कर रहे संत समर्थ सदगुरु की बगड़ी तबीयत भगवान गौतम बुद्ध के 12 अनमोल वचन शरीर के इन हिस्सों पर है अगर तिल, होते हैं बुद्धिमान और काम में सफलता करते हैं हासिल थाने में शिकायत करने पर मर्डर: अहाता संचालक की पीट-पीटकर बेरहमी से हत्या करने का VIDEO वायरल, 2 आरोपी गिरफ्तार कर भेजे गए जेल रात को अचानक नींद खुल जाना नहीं है कोई आम बात, आत्माएं देती हैं ये गंभीर संकेत... जान पर भी बन आ सकती है बात शुरू होने जा रहा है नौतपा, तपती गर्मी के कोप और सूर्य देव के क्रोध से है गहरा नाता रमन सिंह को कवर्धा में तगड़ा झटका, पूर्व मुख्यमंत्री के बेहद करीबी घनश्याम गुप्ता भी टूटे, अकबर ने थमाया कांग्रेस का हाथ अनोखा विरोध प्रदर्शन VIDEO: महंगाई के विरोध में महिला कांग्रेस ने की सिलेंडर की पूजा, सिर पर रखकर किया गरबा नृत्य, बोलीं- थैंक्यू मोदी जी सीएनजी महंगी होने के बाद पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी, चेक करें आपके शहर में कितना पहुंचा दाम

छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट में वर्चुअल सुनवाई के पहले दिन आई तकनीकी दिक्कत

बिलासपुर।  राज्य में कोरोना के फैल रहे संक्रमण को देखते हुए हाई कोर्ट ने बुधवार से वर्चुअल सुनवाई शुरू हो गया है। सुनवाई के पहले दिन नेट कनेक्टिविटी की तकनीकी खामियों को लेकर वकील खासे परेशान हुए और अपनी बहस पूरी नहीं कर पाए। इसके चलते सुनवाई में दिक्क्तें होती रही। प्रदेश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच खतरे की स्थिति को देखते हुए छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट में बुधवार से वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए सुनवाई शुरू हुई।

मामलों की सुनवाई के लिए हाई कोर्ट में आनलाइन सुनवाई के लिए एक दिन पहले ही रोस्टर तय कर दिया गया था। इसके तहत सुबह की पाली में तीन युवकपीठ के साथ ही तीन एकलपीठ में प्रकरणों की सुनवाई की गई। तय काज लिस्ट के अनुसार सुबह करीब 10.30 बजे के पहले ही सभी जस्टिस वीडियो कांफ्रेसिंग से जुड़ गए थे। काज लिस्ट के अनुसार पहले ही वकीलों को भी पता हो गया था कि उनका केस कितने नंबर पर आएगा।

लेकिन, पहले दिन नेट कनेक्टिविटी को लेकर काफी दिक्कतें हो रही थी। इसके चलते वकील वीडियो कांफ्रेसिंग में जुड़ नहीं पा रहे थे। वहीं, जुड़ने के बाद पुअर कनेक्शन के चलते आवाज सुनाई नहीं दे रही थी और कनेक्शन कट जा रहा था। इस तरह की तकनीकी खामियों के चलते कई वकील बसह भी पूरी नहीं कर पाए।

दूसरी पाली में पांच सिंगलबेंच में हुई सुनवाई

इस नई व्यवस्था के तहत बुधवार को पहली पारी दोपहर करीब 2.15 तक चली। फिर इसके बाद दूसरी पाली में सुनवाई शुरू हुई। इसके लिए पांच सिंगलबेंच की व्यवस्था की गई है। दोपहर बाद वकील अपने केस के नंबर के आधार पर वीडियोकांफ्रेसिंग से जुड़कर बहस करते रहे।

वकीलों का रखा गया है ख्याल

हाई कोर्ट में वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए सुनवाई के लिए वकीलों का भी ध्यान रखा गया है। इसके तहत यह व्यवस्था की गई है कि कोई भी वकील एक समय में एक ही कोर्ट में जुड़ सके। इसके लिए काज लिस्ट में उनके मामलों को देखकर अलग-अलग कोर्ट में लगाई गई है। ताकि एक समय में उन्हें दो जगह आनलाइन जुड़ना न पड़े।