ब्रेकिंग
गर्मी के चलते वेस्टर्न रेलवे ने 12 एसी लोकल ट्रेनें शुरू की, जानें कहां से कहां तक हैं ये ट्रेन पुलिस की सराहनीय पहल, प्रतिभावान छात्राओं के घर-घर जाकर किया सम्मानित, बच्चों ने आईएएस, डाॅक्टर व सीए बनने की जताई ईच्छा MP में तालों में कैद भगवान! MLA आकाश विजयवर्गीय बोले- जल्द खुलेगा बोलिया सरकार छत्री का शिव मंदिर एलपीजी गैस सिलेंडर पर लेना चाहते हैं सब्सिडी, फॉलो करें यह आसान प्रोसेस सूरज की तपिश से बादलाें ने दिलाई राहत बोरिंग माफियाओं की मनमानी से इंदौर में गहराया जल संकट नहीं रोक लगा पा रहा नगर निगम, आज भी रोजाना हो रहे 20-25 अवैध बोरिंग चीनी विमान जानबूझकर नीचे लाकर क्रैश कराया गया था श्रीराम सेना का दावा- कर्नाटक में 500 अवैध चर्च ग्राम देवादा में जल सभा का आयोजन एक ही परिवार के 3 लोगों के मर्डर का खुलासा, परिजन ही निकले हत्यारे, ये बनी हत्या की वजह

असम में मतगणना को निष्पक्ष और पारदर्शी बनाने के लिए ‘महाजोट’ ने चुनाव आयोग से की वीडियोग्राफी की मांग

गुवाहाटी। असम में विपक्षी दल कांग्रेस के नेतृत्व वाले ‘महाजोट’ के एक घटक आंचलिक गण मोर्चा (एजीएम) ने रविवार को चुनाव आयोग से विधानसभा चुनाव की दो मई को होने वाली मतगणना की वीडियोग्राफी कराने की मांग की।

एजीएम अध्यक्ष भुइयां ने कहा- असम के नौकरशाह मतगणना में गड़बड़ी कर सकते हैं

चुनाव आयोग को लिखे पत्र में एजीएम के अध्यक्ष और राज्यसभा सदस्य अजित कुमार भुइयां ने कहा कि विधानसभा चुनाव की पूरी प्रक्रिया में आयोग को राज्य की नौकरशाही पर निर्भर होना होता है और इस बात की आशंका है कि कर्मचारियों के कुछ वर्ग सत्तारूढ़ भाजपा का समर्थन और मतगणना में शरारत कर सकते हैं।

मतगणना को निष्पक्ष और पारदर्शी बनाने के लिए चुनाव आयोग उठाए सख्त कदम

असम में मतगणना प्रक्रिया को निष्पक्ष और पारदर्शी बनाने के लिए हम माननीय आयोग से कंडक्ट आफ इलेक्शन रूल, 1961 और आयोग द्वारा समय-समय पर जारी अधिसूचनाओं के मुताबिक ऐसे सभी संभावित कदम उठाने का अनुरोध करते हैं।

मतगणना प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराना चाहिए

पारदर्शिता की दिशा में ऐसा ही एक कदम पूरी मतगणना प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराना होगा। बता दें कि राज्य में तीन चरणों में विधानसभा चुनाव 27 मार्च, एक अप्रैल और छह अप्रैल को हुए थे।