ब्रेकिंग
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने जेपी हॉस्पिटल में स्वास्थ्य मेले की व्यवस्थाओं का जायजा लिया एकदंत संकष्टी चतुर्थी कल अप्रैल के जीएसटी कर भुगतान की तारीख बढ़ी वैश्विक स्तर पर अकेले वायु प्रदूषण से 66.7 लाख लोगों की मौत ऑनलाइन गेमिंग, कैसिनो पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने की तैयारी, ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने दी प्रस्ताव को मंजूरी एक दिन की बढ़त के बाद फिसला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी लाल निशान में क्लोज, पॉवर ग्रिड सबसे ज्यादा लुढ़का पीएम आवास योजना को लेकर सरकार ने किया बड़ा ऐलान! सभी पर पड़ेगा असर कश्मीर घाटी में अभी और होगी बारिश, जम्मू में चल सकती है लू, अलर्ट जारी सुप्रीम कोर्ट ने एजी पेरारिवलन को रिहा किया फूड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया में आवेदन की प्रक्रिया जल्द ही शुरू की जा सकती है

मजदूरों की परेशानियों को 24 घंटे सुनेगा हेल्पलाइन सेंटर

रायपुर।  कोराना वायरस (कोविड-19) के बढ़ते संक्रमण के कारण सबसे अधिक परेशानी मजदूरों को हो रही है, क्योंकि रोजी रोटी के लिए वे घर परिवार छोड़कर अन्य राज्यों में कार्य कर रहे हैं। मजदूरों की बहुत अधिक आय नहीं होती है। पिछले वर्ष के लाकडाउन में सबसे अधिक दिक्कतें मजदूरों को हुई थी। कई दिनों तक खाली पेट के साथ हजारों किलोमीटर पैदल चलना पड़ा था।

इन तमाम विषम परिस्थितियों को दृष्टिगत रखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार ने श्रमिकों की सुविधा के लिए श्रम विभाग के माध्यम से श्रम सुविधा केंद्र (हेल्पलाइन सेंटर) स्थापित किया गया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देशानुसार यह केंद्र श्रमिकों को परामर्श और आवश्यकता अनुसार सहयोग करेंगे।

9109849992 नंबर पर सुनी जाएगी समस्या

11 अप्रैल से छत्तीसगढ़ श्रम कल्याण मंडल, शांति नगर रायपुर में प्रारंभ किया गया है। श्रमिक सुविधा केंद्र के माध्यम से जारी मोबाइल नंबर 91098-49992 और दूरभाष नंबर 0771-2443809 के माध्यम से मजदूर फोन कर अपनी परेशानी बता सकते हैं। जहां उन्हें हर संभव मदद पहुंचाने का दावा किया जा रहा है।

अन्य राज्यों में गए मजदूर भी फोन कर सकेगें
प्रदेश के भीतर कार्यरत श्रमिकों के साथ अन्य राज्यों में रोजगार करने गए श्रमिक भी सेंटर में फोन कर परेशानी बता सकते हैं। श्रमिकों, वर्तमान कार्यस्थल पर कोई समस्या, रेल और बस के माध्यम से छत्तीसगढ़ में वापसी के दौरान कोई किसी भी प्रकार की दिक्कत है या कोविड-19 कोरोना वायरस से संबंधी कोई समस्या हो तो श्रम सुविधा केंद्र से परामर्श और आवश्यकतानुसार सहयोग लेने के लिए नम्बर पर संपर्क कर सकते है।

निजी अस्पतालों की अवैध वसूली पर रोक लगाने की आज की जाएगी मांग
भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी द्वारा 12 अप्रैल को दोपहर 1.30 बजे जिला स्वास्थ्य अधिकारी मीरा बघेल को ज्ञापन सौंपकर तत्काल निजी अस्पतालों द्वारा सरकारी गाइडलाइन के हिसाब से कोरोना संक्रमित मरीज़ों से फीस लेने की मांग की जाएगी।
उक्त जानकारी देते हुए जिला मीडिया प्रभारी राजकुमार राठी ने बताया कि अभी रायपुर जिले के सभी निजी अस्पताल में इलाज करवा रहे कोरोना संक्रमित मरीजों से शिकायत मिल रही है कि निजी अस्पताल द्वारा एक दिन में बेड का 10 से 20 हज़ार एवं दवाई मिलाकर 30 से 50 हज़ार रुपये प्रतिदिन के हिसाब से वसूल रहे। मांगने पर पक्का बिल भी निजी अस्पताल द्वारा दिया जा रहा है, जिससे प्रदेश की जनता को यह महसूस हो रहा है कि इन अस्पतालों की सरकार से मिलीभगत है।

भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी द्वारा जिला स्वास्थ्य अधिकारी से सभी निजी अस्पतालों को तत्काल परिपत्र जारी कर निर्देशित करने की मांग की जाएगी कि तत्काल अवैध वसूली पर रोक लगाए अन्यथा न केवल ऐसे निजी अस्पतालों की मान्यता रद की जाएगी अपितु संबंधित डॉक्टरों की भी डिग्री शून्य करने की अनुशंसा मेडिकल कॉउंसिल से की जाएगी।