ब्रेकिंग

अपशब्द से परेशान इंग्लैंड के क्रिकेटर्स इंटरनेट मीडिया को करना चाहते हैं बॉयकॉट, स्टुअर्ट ब्रॉड ने दी जानकारी

लंदन। इंटरनेट मीडिया पर अपशब्द से परेशान इंग्लैंड के क्रिकेटर्स ने अब इसके खिलाफ खड़ा होने का फैसला कर लिया है। टीम इंटरनेट मीडिया (social media) को बॉयकॉट करने के बारे में सोच रही है। तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड ने यह बात कही है। इंग्लैंड के जोफ्रा आर्चर और मोइन अली के सोशल मीडिया पर दुर्व्यवहार का शिकार रहे हैं और ब्रॉड ने कहा कि वह इसके खिलाफ खड़ा होने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया के बहुत फायदे हैं, लेकिन अगर हमें स्टैंड लेने के लिए कुछ समय के लिए इसे छोड़ना पड़ा तो वे इसके लिए तैयार हैं।

स्टुअर्ट ब्रॉड ने आगे कहा कि इसे लेकर कोई भी फैसला ड्रेसिंग रूम मे मौजद नेतृत्वकर्ता लेंगे। अगर टीम को लगता है कि बदलाव की जरूरत है, तो हमारे ऊपर बुहत बड़े लोग मौजूद है, जो टीम की सोच को लेकर पूरी तरह स्पष्ट होंगे। यह वास्तव में बड़ा संदेश होगा। बता दें कि हाल ही में बांग्लादेशी लेखिका तस्लीमा नसरीन ने इंग्लैंड के खिलाड़ी मोइन अली को लेकर विवादित बयान दे दिया था। उन्होंने कहा था कि मोइन अली अगर क्रिकेट नहीं खेलते तो आतंकवादी संगठन आइएसआइएस (इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड सीरिया) में शामिल हो जाते।

तस्लीमा नसरीन जोफ्रा आर्चर ने करारा जवाब दिया था। उन्होंने कहा कि आप ठीक तो हो ना? मुङो नहीं लगता कि आप ठीक हो।’ इस पर बांग्लादेशी लेखिका ने लिखा, ‘घृणा करने वाले बहुत अच्छे से जानते हैं कि मोइन को लेकर मेरा ट्वीट व्यंग्यात्मक था, लेकिन लोगों ने मुङो अपमानित करने के लिए इसे एक मुद्दा बना दिया, क्योंकि मैं मुस्लिम समाज को धर्मनिरपेक्ष बनाने की कोशिश करती हूं।’ इस पर आर्चर ने लिखा, ‘व्यंग्यात्मक? कोई नहीं हंस रहा है, आप खुद भी नहीं, कम से कम आप इस ट्वीट को हटा दें।’

इससे पहले फ़ुटबॉल में स्कॉटिश चैंपियन रेंजर्स और इंग्लैंड के दूसरे स्तर की टीम स्वानसी सिटी दोनों टीमों के कई खिलाड़ियों ने पिछले हफ्ते कहा था कि एक सप्ताह के लिए इंटरनेट मीडिया का बहिष्कार करेंगे। उन्होंने यह फैसला नस्लीय दुर्व्यवहार के बाद लिया था।