ब्रेकिंग
आर्थिक आधार से गरीब लोगों के आरक्षण में कटौती के विरोध में आज भाटापारा अनुविभागीय अधिकारी के कार्यालय जाकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा सत्तापक्ष पर जमकर बरसे विधायक शिवरतन शर्मा, आरक्षण रुकवाने जो लोग कोर्ट गए उन्हें मुख्यमंत्री जी पुरस्कृत करते हैं,सत्र ... रायपुर विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा में आरक्षण बिल के दौरान ब्राह्मण नेताओं पर जमकर बरसे बलौदाबाजार विधायक प्रमोद शर्मा, उनके मुंह पर करारा तमाचा मार... अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद भाटापारा नगर इकाई की हुई घोषणा मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने मंडी समिति के नए सदस्य को दिलाई शपथ, उद्बोधन में कहा भारसाधक पदाधिकारीयो की नियुक्ति के बाद से मंडी लगातार चहुमुखी विकास क... मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने धान ख़रीदी केंद्रो का निरीछन कर, धान बेचने आये किसानो से मुलाक़ात कर, धान बेचने में आने वाली समस्या की जानकारी ली, किसानों... ग्राम मर्राकोना में नवीन धान उपार्जन केंद्र के शुभारंभ अवसर पर मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने कहा भूपेश सरकार किसानों की सरकार है ग्राम मर्राक़ोंना में नवीन धान उपार्जन केंद्र को मिली हरी झंडी मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने दी जानकारी ट्रक चोरी करने वाले 06 आरोपियो को किया गया गिरफ्तार, मंडी के पास लिंक रोड के किनारे खड़ी ट्रक को किया था चोरी, उड़ीसा से हुई बरामद रायपुर में शिवमहापुराण कथा:पंडित प्रदीप मिश्रा का प्रवचन सुनने लाखों लोग पहुंचे , अनुमान से अधिक लोगों के पहुंचने के कारण पंडित जी को कहना पड़ा घर में...

एंटीलिया विस्फोटक केस: पूर्व अधिकारी वाजे के खिलाफ जल्द बड़ा एक्शन लेगी मुंबई पुलिस

मनसुख हिरेन केस में गिरफ्तार  पूर्व अधिकारी सचिन वाजे को मुंबई पुलिस बरखास्त करने की तैयारी कर रही है। सूत्रों के अनुसार मुंबई पुलिस  वाजे को लेकर जल्द फैसला सुना सकती है।  रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरपर्सन मुकेश अंबानी के घर के पास विस्फोटक से भरी गाड़ी रखने की साजिश और गवाह मनसुख हिरेन की हत्या के आरोप में  वाजे की गिरफ्तारी हुई थी।  इसी मामले में वह  एनआईए की हिरासत में है।

NIA की हिरासत में है वाजे
NIA ने सचिन वाजे के खिलाफ अनलॉफुल एक्टिविटीज (प्रीवेन्शन) एक्ट यानी UAPA की कई धाराएं लगाई हैं। वहीं इससे एक दिन पहले मुंबई पुलिस ने वाजे के सहयोगी सह पुलिस निरीक्षक रियाज काजी को अगले आदेश तक सेवा से निलंबित करने का आदेश जारी किया। अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (शस्त्र इकाई) वीरेंद्र मिश्रा ने काजी को निलंबित करने का आदेश जारी किया है जिसमें कहा गया है कि वह कोई भी निजी काम नहीं कर सकते हैं और इस आदेश का उल्लंघन होने पर उनके खिलाफ कारर्वाई की जाएगी। काजी को रविवार को गिरफ्तार किया गया था और उन्हें 16 अप्रैल तक एनआईए की हिरासत में भेजा दिया गया है।

वाजे का सहयोगी भी  निलंबित
पिछले साल 9 जून को सचिन वाजे ने सीआईयू के इंचार्ज का पदभार संभाला तब से लेकर अब तक काजी सचिन वाजे के साथ ही काम कर रहा था और उसके हर काम में हाथ बंटाता था. वाजे के सबसे करीबी सहयोगी के रूप में इसे पहचाना जाता है। सीआईयू यूनिट में काम करते हुए रियाजुद्दीन काजी सचिन वाजे के साथ कई अहम जांच में शामिल रहा। इनमें टीआरपी घोटाले की जांच, डीसी अवंति कार घोटाला, फेक सोशल मीडिया फॉलोअर्स प्रकरण और कंगना-ऋतिक विवाद शामिल है।

 वाजे पर गंभीर आरोप
एनआईए ने वाजे पर गंभीर धाराओं में केस दर्ज कराया है, जिसमें साजिश, धमकी जैसे गंभीर आरोप हैं।  वाजे के खिलाफ आपराधिक साजिश के लिए धारा 120 बी, विस्फोटक केस में लापरवाही के लिए धारा 286, जालसाजी के लिए धारा 465, जाली सील के इस्तेमाल के लिए धारा 473 और धमकी देने के लिए धारा 506 (2) के तहत केस दर्ज किया है।