ब्रेकिंग
शेयर बाजार में फिर गिरावट का दौर जारी मुख्यमंत्री चौहान संबल योजना के नये स्वरूप संबल 2.0 के पोर्टल का करेंगे शुभारंभ राहुल गांधी ने ऐसे कोई संकेत नहीं दिए कि वो पार्टी के अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ेंगे कांग्रेस चिंतन शिविर: राजस्थान से रायपुर लौटे CM बघेल, एयरपोर्ट पर कांग्रेसियों ने मिठाई खिलाकर किया स्वागत बैंक में पैसा जमा करने व निकालने के संबंध में लाया गया नया नियम, 26 मई से होगा प्रभावी मौनी रॉय की इन तस्वीरों पर दिल हारे फैंस, समुद्र के बीच से शेयर की ग्लैमरस PICS आज फिर बढ़ी सीएनजी की कीमतें CG में जिगरी दोस्त बने दुश्मन: साथियों ने बीच सड़क अपने दोस्त का मुंह किया काला, पीड़ित ने रो-रोकर पुलिस से बताई आपबीती रूह कंपा देने वाली घटना: यात्री बस ने बाइक सवारों को रौंदा, मां और बच्ची की मौके पर ही दर्दनाक मौत बिटक्वाइन 30 हजार डॉलर के नीचे अटका, Dogecoin, Shiba Inu, Solana भी गिरे

लाकडाउन में पेट्रोल-डीजल की बिक्री 75 फीसद तक घटी

रायपुर।कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के चलते राजधानी रायपुर में किए गए लाकडाउन से बीते पांच दिनों में पेट्रोल-डीजल की बिक्री 75 फीसद तक घट गई। कारोबारियों का कहना है कि लाकडाउन के पहले जहां रोजाना पेट्रोल-डीजल की बिक्री चार लाख लीटर व छह लाख लीटर रहती थी। बीते पांच दिनों में पेट्रोल-डीजल की बिक्री 75 फीसद तक घट गई है।

पंप संचालकों का कहना है कि अभी तो लाकडाउन में आम लोगों को तो पेट्रोल-डीजल नहीं दिया जा रहा है। बीते साल भी लाकडाउन की अवधि में पेट्रोल-डीजल की मांग में कमी आई थी। राजधानी रायपुर में पेट्रोल 89.04 रुपये प्रति लीटर और डीजल 87.60 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। एक ओर पेट्रोल-डीजल की मांग जहां घट गई है।

वहीं, इन दिनों लाकडाउन में रसोई गैस की बुकिंग काफी बढ़ गई है। गैस एजेंसी संचालकों का कहना है कि रसोई गैस की मांग में 10 फीसद तक की बढ़ोतरी हुई है। इस आशंका से अधिक बुकिंग हो रही है कि कहीं लाकडाउन और आगे न बढ़ जाए। लाकडाउन आगे बढ़ने पर उन्हें और परेशानी होगी। गैस एजेंसी संचालकों का कहना है कि ऐसा पहली बार है कि गर्मियों में रसोई गैस की माग में थोड़

अब गिरने लगे हैं पेट्रोल-डीजल के दाम

बीते पखवाड़े भर से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में गिरावट का ही रुख बना हुआ है। अच्छी बात यह है कि अभी इनकी कीमतों में स्थिरता बनी हुई है। अभी इनकी कीमतों में बढ़ोतरी के संकेत नहीं है। बीते सात महीनों में पेट्रोल-डीजल की कीमतो में जितनी भी बढ़ोतरी हुई है,उनमें से पचास फीसद बढ़ोतरी फरवरी माह में ही हुई है।