हाफसेंचुरी लगाकर भी हारी टीम, डेविड वार्नर ने बल्लेबाजों पर उतारा गुस्सा कहा- बहुत तकलीफ होती है

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन के छठे मैच में बुधवार को सनराइजर्स हैदराबाद की टीम को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ हार मिली। पहले बल्लेबाजी करते हुए आरसीबी की टीम ने ग्लेन मैक्सवेल के अर्धशतक के दम पर 149 रन का स्कोर खड़ा किया था। जवाब में हैदराबाद की टीम 9 विकेट के नुकसान पर 143 रन ही बना पाई।

मैच में टीम ने अपने आखिरी 17 ओवर में 3 विकेट पर 115 रन बनाए थे। इसके बाद शाहबाज अहमद के ओवर में एक के बाद एक तीन विकेट गिरे। यहां से बल्लेबाजो के खराब शॉट की वजह से जीता हुआ मैच टीम के हाथ से मिलकर गया। कप्तान डेविड वार्नर ने 37 गेंद पर 54 रन की शानदार पारी खेली। जब वह आउट हुए तो टीम का स्कोर 96 रन था। मजबूत स्थिति में होने के बाद भी मैच हारने पर कप्तान ने निराशा जाहिर की।

वार्नर ने कहा- हमारे गेंदबाज बहुत ही शानदार रहे और उनको छोटे स्कोर पर रोकने में कामयाब रहे। मैक्सवेल ने काफी अच्छी बल्लेबाजी की और टीम के लिए एक मंच तैयार किया। हमें दो सेट बल्लेबाज की जरूरत थी आखिर तक लेकिन हम ऐसा करने में नाकाम रहे। हमें एक साझेदारी बनाने की जरूरत थी और क्रिकेट से सही शॉट लगाने की आवश्यता थी। हमने क्रॉस बल्ले से शॉट लगाए और यह खेलने का कोई तरीका नहीं है। इससे बहुत ज्यादा तकलीफ होती है।

हमें इस बात का पता है कि आने वाले मुकाबलों में किस तरह से खेलना है। हमारे पास यहां पर अभी और तीन मैच बाकी है और मुझे लगता है कि यह विकेट पहले से बेहतर होता जा राह है। हमें शुरुआत के छह ओवर में कम से कम विकेट गंवाना है और साधारण क्रिकेट खेलने की जरूरत है। जिस टीम ने चेन्नई मे बात में बल्लेबाजी की उन्होंने सभी चार मैच जीते हैं। ऐसा ही पिछली मुकाबले में भी हुआ था।