ब्रेकिंग
एकदंत संकष्टी चतुर्थी कल अप्रैल के जीएसटी कर भुगतान की तारीख बढ़ी वैश्विक स्तर पर अकेले वायु प्रदूषण से 66.7 लाख लोगों की मौत ऑनलाइन गेमिंग, कैसिनो पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने की तैयारी, ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने दी प्रस्ताव को मंजूरी एक दिन की बढ़त के बाद फिसला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी लाल निशान में क्लोज, पॉवर ग्रिड सबसे ज्यादा लुढ़का पीएम आवास योजना को लेकर सरकार ने किया बड़ा ऐलान! सभी पर पड़ेगा असर कश्मीर घाटी में अभी और होगी बारिश, जम्मू में चल सकती है लू, अलर्ट जारी सुप्रीम कोर्ट ने एजी पेरारिवलन को रिहा किया फूड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया में आवेदन की प्रक्रिया जल्द ही शुरू की जा सकती है बॉडी शेम का शिकार हो चुकीं बॉलीवुड अभिनेत्रियों की हैं लंबी लिस्ट, हाइपेड एक्ट्रेस में होती हैं इनकी गिनती!

सीबीएसई की तर्ज पर छत्तीसगढ़ में भी 10वीं बोर्ड परीक्षा हो सकती है रद

रायपुर।  केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की तर्ज पर कोरोना महामारी के चलते छत्तीसगढ़ में भी माध्यमिक शिक्षा मडल की 10वीं बोर्ड परीक्षा को रद करने की तैयारी है। स्कूल शिक्षा मंत्री डा. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने नईदुनिया को बताया कि इसके लिए विचार किया जा रहा है। दो दिन पहले सीबीएसई ने भी 10वीं बोर्ड की परीक्षा रद की है। इन बच्चों को आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर अंक दिए जाएंगे। जो परीक्षार्थी संतुष्ट नहीं होगा उसके लिए अलग से विशेष परीक्षा का भी प्रावधान है।

बता दें कि कोरोना काल में माध्यमिक शिक्षा मंडल ने 10वीं के बच्चों को आनलाइन और असाइनमेंट देकर पढ़ाया गया है। असाइनमेंट में मिले अंकों के आधार पर बोर्ड के बच्चों को जनरल प्रमोशन दिया जा सकता है। इस पर सरकार फैसला ले सकती है। प्रदेश में 10वीं में चार लाख 61 हजार और 12वीं दो लाख 86 हजार परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हो रहे हैं। बता दें कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर की वजह से देशभर में 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा को रद करने की मांग उठ रही है।

इसके पहले प्रदेश में 15 अप्रैल से परीक्षा होनी थी, राज्य सरकार ने फिलहाल 10वीं की परीक्षा स्थगित कर रखी है। 10वीं बोर्ड की परीक्षाएं 15 अप्रैल से एक मई तक तथा 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं तीन मई से 24 मई तक ऑफलाइन मोड में आयोजित होनी थीं। अभी केवल दसवीं बोर्ड की ही परीक्षा स्थगित हुई है। 12वीं बोर्ड की परीक्षा को लेकर कोई फैसला नहीं हुआ है।