ब्रेकिंग
उदयपुर हत्याकांड के विरोध में बंद रहा बाजार, चप्पे-चप्पे पर तैनात रहे जवान यूपीएसएसएससी पीईटी नोटिफिकेशन जारी काशी विश्वनाथ धाम में अब बज सकेगी शहनाई, होंगी शादियां प्रदेश में मंत्री से लेकर संतरी तक भ्रष्टाचार में संलिप्त, भ्रष्टाचारियों की गिरफ्तारी के मुद्दे पर आप लड़ेगी निगम चुनाव अज्ञात युवकों ने कॉलेज कैंटीन में बैठे 3 छात्रों पर किया तेजधार हथियार से हमला; 1 की हालत गंभीर सिवनी कोर्ट परिसर में न्यायाधीशों समेत 27 ने किया रक्तदान, वितरित किए प्रमाण पत्र पड़ोस में रहने आयी छात्रा से जान पहचान बना डिजिटल रेप करने वाले आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार लोगों ने की आरोपियों को फांसी की सजा देने की मांग, टायर जलाकर की नारेबाजी 12 जुलाई को देवघर जाएंगे पीएम मोदी रिलायंस जिओ डीटीएच प्लान्स ऑफर और आवेदन की जानकारी | Reliance Jio DTH Setup Box Plan Offer Online Booking Information in hindi

खाली बिस्‍तरों में लेट जाते है वार्ड व्‍बॉय, डॉक्‍टर कहते है बिस्‍तर फुल है

भोपाल।हमीदिया अस्‍पताल में हर दिन बिस्‍तर बढाए जाने के बाद भी कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए बिस्‍तर कम पड रहे है। इसके पीछे कारण यह है कि हमीदिया में भर्ती होने के लिए और सरकारी इलाज पाने के नाम पर यहां बिस्‍तरों की काला बाजारी शुरू हो गई है। आपदा को अवसर बनाने के लिए यहां एजेंट सक्रिय है जो बिस्‍तरों की नीलामी करते है। जब भी कोई मरीज हमीदिया से डिस्‍चार्ज होता है तो उसकी जगह गिनती के समय वार्ड व्‍बॉय लेट जाते है और डॉक्‍टर कहते है कि बिस्‍तर फुल है। यहीं कारण है कि जो वास्‍तविक मरीज है उन्‍हें आसानी से बिस्‍तर उपलब्‍ध नहीं हो पाता है। इस मामले की पडताल के बाद सामने आया कि हमीदिया में बिस्‍तर पाने के लिए लोग मुंह मांगी रकम तक देने के लिए तैयार है। इधरप्रदेश के मुख्‍यमंत्री और चिकित्‍सा शिक्षा मंत्री सहित संभागायुक्‍त लगातार कह रहे है हमीदिया में 300 फिर 500 बिस्‍तर बढा दिए गए है लेकिन इसका लाभ ही नहीं मिल पा रहा था। जब इस मामले की शिकायत संभागायुक्‍त से की गई तो उन्‍होंने पहले अपर कलेक्‍टर संदीप केरकेट्टा को जांच के लिए कहा। इस पर एक राजस्‍व निरीक्षक को भेजकर मौके की जानकारी ली गई। जांच में इस बात की पुष्टि हो गई कि डॉक्‍टर और वार्ड व्‍बॉय की मिलीभग से इस धांधली को अंजाम दिया जा रहा था। इतना ही नहीं ड्यूटी पर मौजूद डॉक्‍टर ने तो राजस्‍व निरीक्षक के साथ बदतमीजी तक कर दी। जब यह बात संभागायुक्‍त कवींद्र कियावत को पता चली तो उन्‍होंने तत्‍काल हमीदिया की व्‍यवस्‍था प्रशासनिक हाथों में देने के आदेश जारी कर दिए। अब हमीदिया में शनिवार से बिस्‍तरों का प्रबंधन प्रशानिक अफसर देंखेंगे।

व्‍यवस्‍थाएं दुरुस्‍त रखने विनोद सोनकिया को बनाया हमीदिया का ओएसडी

कोरोना संक्रमित मरीजों के उपचार के लिए हमीदिया अस्‍पताल में व्‍यवस्‍था की गई है। इस व्‍यवस्‍था के लिए विनोद सोनकिया तहसीलदार को विशेष कर्तव्‍यस्‍थ अधिकारी गांधी चिकित्‍सा महाविद्यालय पदस्‍थ किया गया है। वहीं टीबी अस्‍पताल में कोविड मरीजों के उपचार की व्‍यवस्‍थाओं को भी सुचारू रूप से संचालित करने के लिए इन्‍हें प्रभार सौंपा गया है। वहीं इसके साथ ही राजस्‍व निरीक्षक नीलेश सरवटेडॉक्‍टर पंकज कपूर सहायक पशु चिकित्‍सा अधिकारीकेआर चौधरी नापतौल निरीक्षक को इनकी सहायता के लिए लगाया गया है। इन्‍हें जिम्‍मेदारी सौंपी गई है कि हर दिन बिस्‍तरों की जानकारी सार्वजनिक कर वास्‍तविक मरीजों को लाभ दिलाया जाए।