ब्रेकिंग
राकेश झुनझुनवाला की अकासा को मिला ‘क्यूपी’ एयरलाइन कोड, यहां जानें किस दिन से भरेगी उड़ान गर्मी के चलते वेस्टर्न रेलवे ने 12 एसी लोकल ट्रेनें शुरू की, जानें कहां से कहां तक हैं ये ट्रेन पुलिस की सराहनीय पहल, प्रतिभावान छात्राओं के घर-घर जाकर किया सम्मानित, बच्चों ने आईएएस, डाॅक्टर व सीए बनने की जताई ईच्छा MP में तालों में कैद भगवान! MLA आकाश विजयवर्गीय बोले- जल्द खुलेगा बोलिया सरकार छत्री का शिव मंदिर एलपीजी गैस सिलेंडर पर लेना चाहते हैं सब्सिडी, फॉलो करें यह आसान प्रोसेस सूरज की तपिश से बादलाें ने दिलाई राहत बोरिंग माफियाओं की मनमानी से इंदौर में गहराया जल संकट नहीं रोक लगा पा रहा नगर निगम, आज भी रोजाना हो रहे 20-25 अवैध बोरिंग चीनी विमान जानबूझकर नीचे लाकर क्रैश कराया गया था श्रीराम सेना का दावा- कर्नाटक में 500 अवैध चर्च ग्राम देवादा में जल सभा का आयोजन

कोरोना संक्रमण से निपटने संत समाज का सहयोग जरूरी- मंत्री रुद्र कुमार

रायपुर। प्रदेश के लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री रूद्र कुमार ने कोरोना संक्रमण से उत्पन्न स्थिति पर संत समाज के प्रमुखों से वीडियो कान्फ्रेंसिंग से चर्चा की। उन्होंने कोरोना महामारी से निपटने सतनामी समाज से सहयोग की अपील की है। उन्होंने कहा कि सरकार के पास संसाधन सीमित है। सरकार के साथ समाज के जुड़ने से संसाधन कई गुना बढ़ जाता है

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए पिछले वर्ष की तरह इस बार भी समाज के लोगों का सक्रिय सहयोग जरूरी है। उन्होंने वर्तमान में विभिन्न सामाजिक संगठनों द्वारा उपलब्ध कराई जा रही सहायता के लिए उन्हें धन्यवाद दिया। साथ ही समाज के द्वारा अपने स्तर पर किए जा रहे सामाजिक कार्यों की भी सराहना की।

संत समाज के जिला महंत, पदाधिकारी गण एवं प्रदेश भर के जिला प्रमुख वीडियो कान्फ्रेंसिंग में शामिल हुए। इस मौके पर मंत्री शासन-प्रशासन के दिशा-निर्देशों को पालन करने की अपील की।

इलाज की व्यवस्था और टीकाकरण की जानकारी

मंत्री जगतगुरू रुद्र कुमार ने कोरोना संक्रमण की स्थिति को लेकर समाज के लोगों से चर्चा की। इस दौरान उन्होंने इलाज की व्यवस्था और टीकाकरण की जानकारी दी गई। समाज के प्रतिनिधियों से चर्चा करते हुए गुरु रुद्र कुमार ने बताया कि लाकडाउन के दौरान जरूरतमंदों को भोजन उपलब्ध कराने के साथ ही आक्सीजन सिलेंडर, आक्सीजन कंसंट्रेटर और दवाई उपलब्ध कराने में सहयोग कर रहे हैं।

उन्होंने आश्वस्त किया कि कोविड-19 के प्रबंध में अपने सामाजिक भवनों, छात्रावासों, वालिंटियर भोजन उपलब्ध कराने ऑक्सीजन आपूर्ति एवं अन्य किसी भी प्रकार के सहयोग के लिए वे सहर्ष तैयार हैं।