ब्रेकिंग
गर्मी के चलते वेस्टर्न रेलवे ने 12 एसी लोकल ट्रेनें शुरू की, जानें कहां से कहां तक हैं ये ट्रेन पुलिस की सराहनीय पहल, प्रतिभावान छात्राओं के घर-घर जाकर किया सम्मानित, बच्चों ने आईएएस, डाॅक्टर व सीए बनने की जताई ईच्छा MP में तालों में कैद भगवान! MLA आकाश विजयवर्गीय बोले- जल्द खुलेगा बोलिया सरकार छत्री का शिव मंदिर एलपीजी गैस सिलेंडर पर लेना चाहते हैं सब्सिडी, फॉलो करें यह आसान प्रोसेस सूरज की तपिश से बादलाें ने दिलाई राहत बोरिंग माफियाओं की मनमानी से इंदौर में गहराया जल संकट नहीं रोक लगा पा रहा नगर निगम, आज भी रोजाना हो रहे 20-25 अवैध बोरिंग चीनी विमान जानबूझकर नीचे लाकर क्रैश कराया गया था श्रीराम सेना का दावा- कर्नाटक में 500 अवैध चर्च ग्राम देवादा में जल सभा का आयोजन एक ही परिवार के 3 लोगों के मर्डर का खुलासा, परिजन ही निकले हत्यारे, ये बनी हत्या की वजह

फल सब्जी खरीदी के बहाने चौक चौराहे पर लग रही भीड़

कोरबा। शहर के चैक चैराहों में फल सब्जी खरीदी के बहाने भीड़ बढ़ने लगी है। विक्रेता फेरी लगाने के बजाय चैराहों में स्थाई बिक्री कर रहे हैं। ऐसे में लोग घर से बाहर निकल कर कोविड नियमों का उल्लघंन कर रहे हैं।

संक्रमण को नियंत्रण करने के लिए लाकडाउन तो लगा दिया गया हैै लेकिन जब से फल सब्जी खरीदी की छूट दी है तब से शहर में चहल पहल बढ़ गई है। नियमानुसार लोगांे को घर से बाहर नहीं निकलना है बल्कि फल सब्जी वाले फेरी लगते हुए उनके घर तक पहुंचेंगे, लेकिन इसके विपरीत लोग घर के बाहर बाहर निकल रहे हैं।

सुबह सात से 11 बजे तक शहर में ऐसा माहौल रहता है जैसे लाकडाउन लगा ही ना हो। घंटाघर, कोसा बाड़ी, सुभाष चैक सहित अन्य चैराहों पर बाजार जैसा माहौल रहता है। ऐसे में शहर में संक्रमण बढ़ते ही जा रहा है।

अन्य सामान की भी हो रही बिक्री

शहर में फल सब्जी की बिक्री में छूट मिलते ही अन्य सामान की भी दुकानें खुलने लगी हैं। संक्रमण की भयावह स्थिति होने के बाद भी लोग लापरवाही के साथ घर से बाहर निकलने लगे हैं। एक ओर स्वास्थ्य अमले की ओर से संक्रमितों की जान बचाने के लिए अपनी जान की बाजी लगाई जा रही वहीं कोविड नियम की अवहेलना से संक्रमण और मौत का आंकड़ा थमने का नाम नहीं ले रहा।

गांव से शहर के बीच बढ़ा आवागमन

सब्जी बिक्री के बहाने शहर और गांव के बीच की दूरी घट गई है। लोग बेखौफ आवागमन करने लगे हैं। सुबह से दोपहर तक लाकडाउन शिथिल होने से दीगर सामान की खरीदी करने गांव से शहर पहुंच रहे हैं। नियंत्रण नहीं होने से संक्रमण बेलगाम हो रहा है।