ब्रेकिंग
आर्थिक आधार से गरीब लोगों के आरक्षण में कटौती के विरोध में आज भाटापारा अनुविभागीय अधिकारी के कार्यालय जाकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा सत्तापक्ष पर जमकर बरसे विधायक शिवरतन शर्मा, आरक्षण रुकवाने जो लोग कोर्ट गए उन्हें मुख्यमंत्री जी पुरस्कृत करते हैं,सत्र ... Selecting the right Virtual Info Room Supplier रायपुर विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा में आरक्षण बिल के दौरान ब्राह्मण नेताओं पर जमकर बरसे बलौदाबाजार विधायक प्रमोद शर्मा, उनके मुंह पर करारा तमाचा मार... Making a Cryptocurrency Beginning अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद भाटापारा नगर इकाई की हुई घोषणा मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने मंडी समिति के नए सदस्य को दिलाई शपथ, उद्बोधन में कहा भारसाधक पदाधिकारीयो की नियुक्ति के बाद से मंडी लगातार चहुमुखी विकास क... मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने धान ख़रीदी केंद्रो का निरीछन कर, धान बेचने आये किसानो से मुलाक़ात कर, धान बेचने में आने वाली समस्या की जानकारी ली, किसानों... ग्राम मर्राकोना में नवीन धान उपार्जन केंद्र के शुभारंभ अवसर पर मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने कहा भूपेश सरकार किसानों की सरकार है ग्राम मर्राक़ोंना में नवीन धान उपार्जन केंद्र को मिली हरी झंडी मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने दी जानकारी

मप्र के डॉक्टर की जान बचाने एयर एंबुलेंस से ले गए हैदराबाद, कोरोना मरीजों के इलाज के दौरान हो गए संक्रमित

भोपाल। कोरोना मरीजों का इलाज करते हुए गंभीर रूप से संक्रमित हुए मध्य प्रदेश के सागर स्थित बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज (बीएमसी) के डॉक्टर सतेंद्र मिश्रा को बेहतर इलाज के लिए एयर एंबुलेंस से हैदराबाद भेजा गया है। हैदराबाद के विशेषज्ञ डॉक्टर्स की एक टीम उनके इलाज के लिए सागर पहुंची थी।

संक्रमण गंभीर के चलते डॉक्टर मिश्रा को बेहतर इलाज के लिए हैदराबाद भेजा गया

जांच और परीक्षण के बाद डॉक्टर्स ने पाया कि संक्रमण गंभीर है, इसलिए डॉ. मिश्रा को हैदराबाद ले जाना तय किया गया। उन्हें सागर से भोपाल सड़क मार्ग से और फिर वायु मार्ग से हैदराबाद ले जाया गया। इसके लिए सागर जिला प्रशासन ने सागर से राजधानी भोपाल स्थित एयरपोर्ट तक 175 किलोमीटर का ग्रीन कॉरीडोर बनाया ताकि एंबुलेंस को रास्ते में कहीं जाम का सामना न करना पड़े।

डॉक्टर मिश्रा की हालत स्थिर, हैदराबाद के यशोदा अस्पताल में भर्ती

फिलहाल डॉक्टर मिश्रा की हालत स्थिर बनी हुई है। उन्हें हैदराबाद के यशोदा अस्पताल में भर्ती किया गया है। जरूरत होने पर उनके फेफड़े भी ट्रांसप्लांट किए जा सकते हैं। डॉ. मिश्रा के भाई जन्मेजय मिश्रा भी उनके साथ हैदराबाद गए हैं।

मुख्यमंत्री ने तत्काल दिलवाई अनुमति

डॉ. मिश्रा के गंभीर रूप से संक्रमित होने पर बीएमसी के डॉ. उमेश पटेल ने इंटरनेट मीडिया पर लोगों से उनके बेहतर इलाज व लंग्स ट्रांसप्लांट कराने में मदद करने की अपील की थी। यह मैसेज वायरल होने के बाद सागर विधायक शैलेंद्र जैन ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को मामले से अवगत करवाया। मुख्यमंत्री ने तत्काल सभी अनुमतियां देते हुए हैदराबाद के डॉक्टरों की टीम को सागर बुलाकर इलाज शुरू करवाया।

हैदराबाद से आई विशेषज्ञों की टीम

हैदराबाद के डॉक्टरों की विशेष टीम रविवार देर रात सागर पहुंची। डॉ. अपार जिंदल व लंग्स ट्रांसप्लांट यूनिट हैदराबाद की टीम ने डॉ. सतेंद्र मिश्रा का गहन स्वास्थ्य परीक्षण कर कुछ जांचें की। इंफेक्शन अधिक होने के कारण टीम डॉ. मिश्रा को सुबह 5 बजे सागर से भोपाल और 8 बजे भोपाल से हैदराबाद लेकर रवाना हो गई। बता दें कि डॉ. अपार ¨जदल देश के बड़े डॉक्टरों में शामिल हैं और उनका अस्पताल सभी आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित पलमोनरी सेंटर है, जहां लंग्स ट्रांसप्लांट होते हैं।