Jain
ब्रेकिंग
रमा देवी बंशीलाल गुर्जर और नम्रता प्रितेश चावला के नाम पर चल रहा मंथन महिलाओं की उंगलियां होती है ऐसी, स्वभाव से होती हैं गंभीर और बड़ी खर्चीली इन चीजों से किडनी हो सकती है खराब दिल्ली से किया था नाबालिग को अगवा, CCTV फुटेज से आरोपियों की हुई थी पहचान गृह विभाग में अटकी फ़ाइल, क्या रिटायर्ड होने के बाद होगा प्रमोशन एशिया कप के लिए टीम का ऐलान आज वास्तु की ये छोटी गलतियां कर सकती हैं आपका बड़ा नुकसान, खो सकते हैं आप अपना कीमती दोस्त आय से अधिक संपत्ति मामले में शिबू सोरेन को लोकपाल का नोटिस बाइक से कोरबा लौटने के दौरान हादसा, दूसरे जवान की हालत गंभीर; पुलिस लाइन में पदस्थ थे दोनों | road accident in chhattisharh; bike rider chhattisgarh p... खरीदें Redmi का शानदार 5G स्मार्टफोन

सरकार ने हेल्थकेयर वर्कर्स के लिए बीमा योजना को एक साल के लिए बढ़ाया, मिलता है 50 लाख का कवर

नई दिल्ली। सरकार ने कोरोना वायरस महामारी से लड़ाई लड़ रहे हेल्थकेयर वर्कर्स को राहत प्रदान की है। सरकार ने हेल्थकेयर वर्कर्स के लिए बीमा योजना को एक साल के लिए बढ़ा दिया है। गौरतलब है कि सरकार ने पिछले साल प्रधान मंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ जंग में पहली पंक्ति में खड़े हेल्थकेयर वर्कर्स के लिए बीमा योजना लॉन्च की थी।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन सिंह ने मंगलवार देर रात कहा, ‘कोविड-19 प्रधान मंत्री गरीब कल्याण पैकेज (PMGKP) के तहत कोरोना वायरस महामारी से लड़ाई लड़ रहे हेल्थकेयर वर्कर्स के लिए लाई गई इंश्योरेंस स्कीम को आज से एक साल के लिए आगे बढ़ाया जाता है।’ अर्थात अब यह बीमा योजना 20 अप्रैल से एक साल तक और लागू रहेगी।

इससे पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को घोषणा की कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज के तहत कोरोना योद्धाओं के सभी दावों का 24 अप्रैल तक निपटारा किया जाएगा और इसके बाद उनके लिए एक नई बीमा पालिसी को प्रभावी बनाया जाएगा। मंत्रालय ने ट्वीट कर कहा था कि नई व्यवस्था कोरोना योद्धाओं को कवर करने के लिए मुहैया कराई जाएगी और इसके लिए मंत्रालय न्यू इंडिया एश्योरेंस से बातचीत कर रहा है।

मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा था, ‘इस योजना ने कोरोना से निपटने में मदद कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों के मनोबल को बढ़ाने में अहम मनोवैज्ञानिक भूमिका निभाई है। कोरोना योद्धाओं के प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज (पीएमजीकेपी) बीमा पालिसी के तहत दावे 24 अप्रैल, 2021 तक निपटाए जाएंगे। इसके बाद कोरोना योद्धाओं के लिए नई बीमा पालिसी प्रभावी होगी।’

इस योजना को स्वास्थ्यकर्मियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए शुरू किया गया था, ताकि कोरोना के कारण कोई अप्रिय घटना होने की स्थिति में उनके परिवार का ध्यान रखा जा सके। पीएमजीकेपी के तहत 50 लाख रुपये का बीमा कवर मुहैया कराया जाता है।