ब्रेकिंग
केरल में भारी बारिश, IMD ने जारी किया येलो अलर्ट; खोले गए 2 बांध जयपुर से लौटे रमन, कहा- भाई-भतिजावाद और परिवारवाद की वजह से कांग्रेस की हुई ये स्थिति अब इस प्राइवेट सेक्टर के बैंक ने एफडी की ब्याज दरों में की बढ़ोतरी, जानें लेटेस्ट ब्याज दर NIA अफसर तंजील अहमद मर्डर केस में मुनीर और रैयान को फांसी की सजा ज्ञानवापी मामले में ‘शिवलिंग’ पर आपत्तिजनक पोस्ट करने वाले प्रोफेसर रतन लाल को ज़मानत, जानें कोर्ट में क्या-क्या हुआ पेटीएम को हुआ 762 करोड़ रुपये का घाटा, कंपनी ने कहा- सही रास्ते पर कारोबार जिला जज को हैंडओवर की ज्ञानवापी केस की रिपोर्ट UP विधानसभा लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करेगी : सतीश महाना 'ठेके-पटटे, तबादला-तैनाती' से रहें दूर : सीएम योगी ईयर फोन का ज्यादा इस्तेमाल हो सकता है खतरनाक, कानों को हो सकते हैं ये गंभीर नुकसान

पालघर में कोविड अस्‍पताल में भीषण आग, ICU में भर्ती 13 मरीजों की मौत; PM मोदी ने जताया दुख

पालघर।  महाराष्ट्र में पालघर (Plaghar) जिले के वसई (Vasai ) इलाके में शुक्रवार (आज) तड़के करीब 3 बजे विजय वल्लभ कोविड केयर अस्पताल में भीषण आग लग गई। कोरोना नियंत्रण कक्ष, वसई विरार नगर निगम के अनुसार इस हादसे में अब तक 13 मरीजों की दर्दनाक मौत हो चुकी है। आग की सूचना मिलते ही प्रभावित मरीजों को नजदीकी अस्पतालों में स्थानांतरित किया गया है। 21 मरीजों की हालत काफी गंभीर बतायी जा रही है। इस मामले में अभी अधिक जानकारी की प्रतीक्षा है। आशंका जतायी जा रही है कि आग शॉर्ट सर्किट से लगी होगी। महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने विजय वल्लभ COVID अस्पताल में आग लगने की घटना की जांच के आदेश दिए हैं।

दोषियों को बख्‍शा नहीं जाएगा- एकनाथ शिंदे 

महाराष्ट्र के मंत्री एकनाथ शिंदे ने कोविड अस्‍पताल में हुए इस हादसे पर दुख जताते हुए कहा, यह एक बड़ा हादसा है। दोषी पाये गए लोगों को बख्‍शा नहीं जाएगा। सरकार ने इस हादसे में जान गंवाने वालों के परिवारों को  5-5 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है।

प्रधानमंत्री और रक्षामंत्री ने जताया दुख   

महाराष्ट्र के पालघर में कोविड अस्पताल में आग लगने की घटना में हुई मौतों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narender Modi)और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गहरा दुख जताया और शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त कीं। उन्होंने घायलों के जल्द स्‍वस्‍थ होने की कामना की।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र के नासिक में डॉ. जाकिर हुसैन अस्पताल परिसर में लगे ऑक्सीजन टैंक से बुधवार दोपहर ऑक्सीजन लीक होने से 24 कोरोना मरीजों की मौत हो गई थी। घटना उस समय हुई जब ऑक्‍सीजन को लीक होता देख अस्‍पताल में ऑक्‍सीजन आपूर्ति को रोक दिया गया। इससे वेंटीलेटर पर रखे गए मरीजों को ऑक्‍सीजन न मिलने से उनकी मौत हो गई। डा. जाकिर हुसैन अस्पताल परिसर में ये ऑक्‍सीजन टैंक कुछ दिन पहले ही लगाया गया था। ऑक्‍सीजन लीक होते ही चारों ओर सफेद धुएं का गुबार फैल गया। इस लीकेज को रोकने के लिए अस्पताल प्रशासन ने अस्पताल के अंदर की ओर हो रही ऑक्सीजन आपूर्ति को कुछ देर के लिए रोक दिया था।