ब्रेकिंग
लंबे समय बाद स्टेज पर दिखे शाहरुख खान कुछ सरल वास्तु उपाय जो घर मे लाएंगे बरक्कत डोमेस्टिक का चार्ज लगेगा, बिजली बिलों में 2 रुपए प्रति यूनिट का मिलेगा फायदा एक महीने में हुए चार 'दुराचारी सभा' में पहुंचे सिर्फ 844 हिस्ट्रीशीटर,दरी पर बैठना उन्हें नहीं पसंद बोले- 5 साल से कर रहा था तैयारी, अब बना राजस्थान का टॉपर गुरु अमरदास एवेन्यू के निवासियों ने ब्लॉक किया जीटी रोड, MLA के खिलाफ प्रदर्शन भूप्रेंद्र सिंह हुड्‌डा ने कहा गांधीवादी तरीके से करेंगे विरोध, सरकार रद्द करके अग्निपथ फर्जी दस्तावेज तैयार कर कब्जाई थी जमीनें, पुलिस की गिरेबान पर हाथ डालने के बाद आया था चर्चा में सनी नागपाल भुवनेश्वर कुमार तोड़ेंगे पाकिस्तानी गेंदबाज का रिकॉर्ड डेब्यू मैच में फ्लॉप रहे उमरान मलिक

स्वास्थ्य मंत्री का दावा- साल 2020 में देश के 116 जिलों में मलेरिया का एक भी मामला नहीं आया सामने

नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने शुक्रवार को कहा कि 2020 में देश के 116 जिलों में मलेरिया का एक भी मामला सामने नहीं आया। इस तरह भारत इस बीमारी में 84.5 फीसद और मौत में 83.6 फीसद कमी लाने में कामयाब रहा है।

25 अप्रैल को है विश्व मलेरिया दिवस

उन्होंने कहा कि देश की इस उपलब्धि को विश्व मलेरिया रिपोर्ट 2018, 2019 और 2020 में भी मान्यता दी गई है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी भारत की राजनीतिक प्रतिबद्धता और तकनीकी नेतृत्व को सक्षम बनाने की सराहना की है। वर्धन ने कहा कि 25 अप्रैल को हर साल विश्व मलेरिया दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस साल का थीम है-शून्य मलेरिया लक्ष्य हासिल करना।

बता दें कि इस वक्त देश पहले ही कोरोना महामारी के चपेट में है। ऐसे में हम सभी को एहतियात बरतनी चाहिए। चूंकि, मलेरिया बीमारी मच्‍छर के काटने से होती है इसलिए बच्‍चें को मच्‍छरों से दूर रखें। अपने घर के आसपास पानी न भरने दें। बारिश के मौसम में किसी भी कंटेनर आदि में पानी जमा न होने दें और समय-समय पर कूलर को साफ करें।

इसके साथ ही बच्‍चे को हल्‍के रंग के कपड़े पहनाएं। माना जाता है कि गहरे रंग के कपड़ों पर मच्‍छर जल्‍दी आते हैं। सभी लोगों को सलाह दी जाती है कि पूरी बाजू के कपड़े पहने। मच्‍छर मारने की दवाओं का इस्‍तेमाल करें और सोते समय मॉस्‍किटो नैट लगाएं।