ब्रेकिंग
भाजपा विधायक का समर्थक निकला धर्मांतरण मामले का मुख्य आरोपी सुनील जाखड़ भाजपा में हुए शामिल इंदौर में पिछड़ा वर्ग की पांच सीटें बढ़ेंगीं प्रदेश में सामाजिक सौहार्द बनाए रखना सर्वोच्च प्राथमिकता : मुख्यमंत्री चौहान जब मंटूराम ने मुख्यमंत्री को बताया कि पत्नी संग रातभर करता हूं गोबर की चौकीदारी औद्योगिक क्षेत्र पीथमपुर की पारेषण क्षमता में वृद्धि पीएम क‍िसान और राशन कार्ड के लाभार्थ‍ियों में हड़कंप, सरकार ने भेजा र‍िकवरी नोट‍िस फीचर फोन से बिना इंटरनेट भी आप कर सकते हैं UPI पेमेंट, ये है तरीका क्या जरूरी दवाइयों की कीमत कम होने वाली है? कल NPPA की बैठक में लिया जाएगा फैसला सच बोलो तो बदनाम करेंगे बड़े नेता : हार्दिक पटेल

संकट के बीच गांधीनगर में ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन, अमित शाह बोले- अन्य राज्यों को मिलेगी मदद

नई दिल्ली। देश में इस वक्त कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते ऑक्सीजन संकट पैदा हो गया है। बदतर होती स्थिति के बीच गृहमंत्री अमित शाह ने आज गुजरात में गांधीनगर के आयुर्वेदिक अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन किया। इस दौरान उनके साथ प्रदेश के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और उपमुख्यमंत्री नीतिन पटेल भी मौजूद रहे। अमित शाह ने इश दौरान दूसरे राज्यों को ऑक्सीजन पहुंचाने की भी बात कही।

पीएम केयर फंड से चलाया गया अभियान

गृह मंत्री ने कहा कि पीएम केयर फंड से ऑक्सीजन प्रदान करने के लिए देशभर में विशेष अभियान चलाया गया, जिसके तहत गुजरात में 11 नए पीएसए ऑक्सीजन संयंत्र स्थापित किए गए हैं। गुजरात में उत्पादित ऑक्सीजन की अतिरिक्त मात्रा अन्य राज्यों में पहुंचाई जाएगी।

बता दें कि देश में इस वक्त कोरोना वायरस की तीसरी लहर चल रही है। लगातार तीन लाख से ज्यादा मामले देश में दर्ज किए गए जा रहे है। स्थिति बेकाबू होती जा रही है। हाहाकार जैसे बन रहे हालात के चलते अस्पतालों में स्थिति बिगड़ रही है। देश के अधिकतर राज्यों में मरीजों को बेड, ऑक्सीजन, वेंटिलेटर भी समय पर नहीं मिल पा रहे है। स्थिति यहां तक पहुंच गई है कि ऑक्सीजन की कमी के चलते मरीजों की जान जा रही है। ऐसे में सरकार की तरफ से भी हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं कि मरीजों को सभी सुविधाएं मिले।

कोरोना के खिलाफ लड़ाई में कई राज्यों की तरफ से ऑक्सीजन की कमी का मुद्दा उठाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा था कि जल्द ही ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए रेलवे और वायुसेना को भी लगाया है। इस दौरान पीएम ने कहा था कि ऑक्सीजन की सप्लाई में लगने वाले समय को कम करने के लिए युद्धस्तर पर काम किया जा रहा है। इसके लिए रेलवे और वायुसेना को भी लगाया गया है। स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही और टैंकरों की एयरलिफ्टिंग की जा रही है।