ब्रेकिंग
केंद्र सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर दी बड़ी राहत, जानें कितने घट गए दाम केरल में भारी बारिश, IMD ने जारी किया येलो अलर्ट; खोले गए 2 बांध जयपुर से लौटे रमन, कहा- भाई-भतिजावाद और परिवारवाद की वजह से कांग्रेस की हुई ये स्थिति अब इस प्राइवेट सेक्टर के बैंक ने एफडी की ब्याज दरों में की बढ़ोतरी, जानें लेटेस्ट ब्याज दर NIA अफसर तंजील अहमद मर्डर केस में मुनीर और रैयान को फांसी की सजा ज्ञानवापी मामले में ‘शिवलिंग’ पर आपत्तिजनक पोस्ट करने वाले प्रोफेसर रतन लाल को ज़मानत, जानें कोर्ट में क्या-क्या हुआ पेटीएम को हुआ 762 करोड़ रुपये का घाटा, कंपनी ने कहा- सही रास्ते पर कारोबार जिला जज को हैंडओवर की ज्ञानवापी केस की रिपोर्ट UP विधानसभा लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करेगी : सतीश महाना 'ठेके-पटटे, तबादला-तैनाती' से रहें दूर : सीएम योगी

छत्तीसगढ़ के कलाकारों की मदद करने सामने आए सरकार

रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार को लोक कलाकारों की जरा भी चिंता नहीं है। इस कोविड काल में कलाकार के सामने रोजगार संकट खड़ा हो गया है, ऐसे समय में प्रदेश सरकार को मदद के लिए पहल करनी चाहिए। मगर, प्रदेश सरकार की प्राथमिकता में अंचल के कलाकारों को मदद या सुविधा देने की कोई योजना नहीं है। यही कारण है कि प्रदेश से बाहर के कलाकारों को अधिक अवसर मिल रहा है, जिसके चलते स्थानीय कलाकारों की उपेक्षा हो रही है।

यह कहना है भाजपा सांस्कृतिक प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक एवं छत्तीसगढ़ फ़िल्म विकास निगम के पूर्व अध्यक्ष राजेश अवस्थी का। उन्होंने सरकार से कलाकारों को राहत पहुंचाने सहयोग करने की मांग की है। भाजपा सांस्कृतिक प्रकोष्ठ के संयोजक एवं फिल्म विकास निगम के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश सरकार स्थानीयता के नाम पर सिर्फ दिखावा कर रही है, जिसके कारण कलाकारों को बीते 26 माह में काफी नुकसान हुआ है।

वहीं, छत्तीसगढ़ी जीवन एवं संस्कृति के नाम पर जो दिखावा किया जा रहा था, उसके कारण जो भ्रम की स्थिति बनी हुई थी वह भी अब टूटने लगी है। इस भयावह कोरोना काल में प्रदेश सरकार को कलाकारों के लिए तत्काल आर्थिक सहयोग के लिये पहल करनी चाहिए और जब भी कार्यक्रम आरम्भ हो, तब प्रदेश के आयोजनों में स्थानीय सभी कलाकारों को ज्यादा से ज्यादा मौका मिले, मात्र चिह्नित कलाकारों को नहीं, इसके लिये भी नीति बनाने की जरूरत है।

जब भाजपा की सरकार थी, तब लोक कलाकारों के सम्मान को ध्यान में रखते हुए पेंशन योजना भी शुरू की गई थी लेकिन वर्तमान सरकार में लोक कलाकारों को सही तरीके से पेंशन तक नही मिल रही है। पेंशन का लाभ वरिष्ठ कलाकारों एवम जरूरतमंद कलाकारों को तुरंत मिले, इस पर प्रदेश सरकार को तत्काल फैसला लेना चाहिए।

प्रदेश सरकार कलाकारों की चिंता करते हुए कोरोना काल में आर्थिक मदद के लिए आवश्यक कदम उठाये, कोरोना के चलते कलाकारों के समाने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है। जिन कलाकारों के भुगतान अभी तक लंबित हैं उनका भुगतान भी जल्द से जल्द किया जाए।