ब्रेकिंग
भाजपा विधायक का समर्थक निकला धर्मांतरण मामले का मुख्य आरोपी सुनील जाखड़ भाजपा में हुए शामिल इंदौर में पिछड़ा वर्ग की पांच सीटें बढ़ेंगीं प्रदेश में सामाजिक सौहार्द बनाए रखना सर्वोच्च प्राथमिकता : मुख्यमंत्री चौहान जब मंटूराम ने मुख्यमंत्री को बताया कि पत्नी संग रातभर करता हूं गोबर की चौकीदारी औद्योगिक क्षेत्र पीथमपुर की पारेषण क्षमता में वृद्धि पीएम क‍िसान और राशन कार्ड के लाभार्थ‍ियों में हड़कंप, सरकार ने भेजा र‍िकवरी नोट‍िस फीचर फोन से बिना इंटरनेट भी आप कर सकते हैं UPI पेमेंट, ये है तरीका क्या जरूरी दवाइयों की कीमत कम होने वाली है? कल NPPA की बैठक में लिया जाएगा फैसला सच बोलो तो बदनाम करेंगे बड़े नेता : हार्दिक पटेल

एयरलिफ्ट से बोकारो पहुंचे दो खाली टैंकर, ग्वालियर लाएंगे 30 टन आक्सीजन

 ग्वालियर। आक्सीजन के गहराते संकट से निपटने के लिए अब हवाई मार्ग बड़ी राहत बनेगा। किल्लत को ध्यान में रखकर प्रदेश सरकार ने मप्र के लिए झारखंड के बोकारो से आक्सीजन का इंतजाम किया है। वायुसेना के विमान के जरिए वालियर से 15-15 टन क्षमता के दो टैंकर रविवार को रवाना किए गए हैं, जो सड़क मार्ग से लौटकर आएंगे। प्रशासन के अनुसार तीन दिन में यह टैंकर 30 टन आक्सीजन लेकर ग्वालियर पहुंच जाएंगे। वहीं केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के प्रयास से 18 एमटी का आक्सीजन टेंकर रविवार को ग्वालियर पहुंचा। जिससे 15 एमटी जेएएच के टैंकर को दी और शेष तीन एमटी दतिया मेडिकल कालेज के लिए भिजवाई गई। शाम को एक और ऑक्सीजन टैंकर ग्वालियर आ गया। कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच आक्सीजन की बढ़ती किल्लत के कारण प्रवेश सरकार ने झारखंड के बोकारो आक्सीजन टैंकर एयरलिफ्ट के जरिए भेजने का एयररूट तैयार किया है। रविवार को दो टैंकर भेज भी दिए गए हैं। सोमवार-मंगलवार दोनों दिन आक्सीजन टैंकर आ सकते हैं। ग्वालियर में दो छोटे टैंकर आक्सीजन के आएंगे। दूसरी खेप 28 अप्रैल को और तीसरी खेप ग्वालियर के लिए एक मई को आएगी। इसी तरह इंदौर और भोपाल में भी आक्सीजन आपूर्ति के लिए एयरलिफ्टिंग की जा रही है।

केंद्रीय मंत्री ने भिजवाया आक्सीजन टैंकर: केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने आक्सीजन की परेशानी को देखते हुए एक टैंकर ग्वालियर के लिए भिजवाया है। यह उम्र के मोदीनगर से मंगवाया गया जो कि रविवार सुबह ग्वालियर आ गया। केंद्रीय कृषि मंत्री तोमर ने रेल मंत्री पीयूष गोयल और आइनॉक्स कंपनी के चेयरमैन पवन जैन से चर्चा कर एक 18 एमटी का आक्सीजन गैस टैंकर ग्वालियर को अति शीघ्र उपलब्ध कराने के लिए चर्चा की। इसके परिपालन में तत्काल आइनॉक्स चेयरमैन ने आक्सीजन गैस टैंकर ग्वालियर को उपलब्ध कराया। इससे पहले एक और टैंकर मोदीनगर से केंद्रीय मंत्री ग्वालियर भिजवा चुके हैं। वहीं रविवार को भिलाई से एक टैंकर और ग्वालियर आ गया।

ग्वालियर के पास पांच टैंकर, यही बचा रहे जान: ग्वालियर में आक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित कराने के लिए पाच आक्सीजन टैंकर है, जो कि रोटेशन में चलते रहते हैं। टैंकर भेजने के बाद उसके आने और दोबारा भेजने के दौरान इतजार करना पड़ता है। एक टैकर तीन रोज पहले ललितपुर में पलट गया जो 15 टन क्षमता का था। यह पि गया है और जल्द ग्वालियर आए प्रदेश में इंदौर के बाद ग्वालियर में पांच टैंकरों की व्यवस्था अपने ऊपर है।

आक्सीजन निजी अस्पताल सावधानी से दें ऑक्सीजन: प्रशासन के अनुसार ऑक्सीजन की आपूर्ति हो रही है और लगातार सप्लाई भी आ रही है। निजी अस्पतालों में संकट हो रहा है, क्योंकि सावधानी और आवश्यकता अनुसार ऑक्सीजन नहीं दी जा रही है। सीजन की बर्बादी भी हो रही है।