ब्रेकिंग
शेयर बाजार में फिर गिरावट का दौर जारी मुख्यमंत्री चौहान संबल योजना के नये स्वरूप संबल 2.0 के पोर्टल का करेंगे शुभारंभ राहुल गांधी ने ऐसे कोई संकेत नहीं दिए कि वो पार्टी के अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ेंगे कांग्रेस चिंतन शिविर: राजस्थान से रायपुर लौटे CM बघेल, एयरपोर्ट पर कांग्रेसियों ने मिठाई खिलाकर किया स्वागत बैंक में पैसा जमा करने व निकालने के संबंध में लाया गया नया नियम, 26 मई से होगा प्रभावी मौनी रॉय की इन तस्वीरों पर दिल हारे फैंस, समुद्र के बीच से शेयर की ग्लैमरस PICS आज फिर बढ़ी सीएनजी की कीमतें CG में जिगरी दोस्त बने दुश्मन: साथियों ने बीच सड़क अपने दोस्त का मुंह किया काला, पीड़ित ने रो-रोकर पुलिस से बताई आपबीती रूह कंपा देने वाली घटना: यात्री बस ने बाइक सवारों को रौंदा, मां और बच्ची की मौके पर ही दर्दनाक मौत बिटक्वाइन 30 हजार डॉलर के नीचे अटका, Dogecoin, Shiba Inu, Solana भी गिरे

छोल विश्रामघाट के विद्युत शवदाह गृह में निःशुल्क दाह संस्कार होगा

भोपाल। श्री विश्रामघाट कमेटी ट्रस्ट ने सर्वसम्मति से छोला विश्राम घाट में शुरू हुए विद्युत शवदाह गृह में सभी दाह संस्कार निश्शुल्क करने का निर्णय लिया है।

ट्रस्ट के पदाधिकारियों संरक्षक रामावतार गुप्ता , अध्यक्ष रमेश शर्मा (गुट्टू भैया), उपाध्यक्ष त्रिभुवन मेहता ,उपाध्यक्ष बंसी लाल इसरानी, महामंत्री प्रमोद चुग (मोदी) ,मंत्री नेमीचंद जैन कोषाध्यक्ष टीआर मिश्रा, कार्यकारिणी सदस्य हेमंत अजमेरा , मुरली हरवानी द्वारा एक ऑनलाइन मीटिंग में यह फैसला किया है। बैठक में वर्तमान समय में दिवंगत के परिजनों की परेशानी को देखते हुए विद्युत शवदाह गृह को आगामी निर्णय तक निश्शुल्क करने पर सहमति बनी। महामंत्री प्रमोद चुग के मुताबित भयंकर महामारी के चलते प्रतिदिन मृतकों की संख्या बढ़ने से लकड़ी आदि की समस्या को देखते हुए। साथ ही पर्यावरण संरक्षण हेतु लकड़ी को बचाने के लिए विद्युत शवदाह गृह निश्शुल्क किया गया। इस अवसर पर हेमंत अजमेरा ने बताया कि एक अप्रैल 2021 से रविवार तक 323 अंतिम संस्कार छोला विश्राम घाट पर हुए। जिनमें केवल तीन मृतकों के परिजनों ने ही लकड़ी का उपयोग किया शेष सारे संस्कार पूर्णतः गो काष्ठ से किए गए। ट्रस्ट के अध्यक्ष रमेश शर्मा (गुट्टू भैया) द्वारा नगर निगम प्रशासक,कमिश्नर एवं पदाधिकारियों को विद्युत शवदाह गृह चालू कराने हेतु धन्यवाद दिया गया। साथ ही मांग की गई कि शीघ्र ही सुभाष नगर के भी विद्युत शवदाह गृह को चालू कराया जाए। महामंत्री श्री चुग ने बताया की संक्रमण के चलते अंतिम संस्कार में आने वाले परिजन नगण्य है और वह शीघ्र ही विश्राम घाट से जाना चाहते हैं। विद्युत शवदाहगृह में 2 घंटे में पूरा संस्कार के पश्चात अस्थियां परिजनों को सौंपी जा सकती हैं।