ब्रेकिंग
एक महीने में हुए चार 'दुराचारी सभा' में पहुंचे सिर्फ 844 हिस्ट्रीशीटर,दरी पर बैठना उन्हें नहीं पसंद बोले- 5 साल से कर रहा था तैयारी, अब बना राजस्थान का टॉपर गुरु अमरदास एवेन्यू के निवासियों ने ब्लॉक किया जीटी रोड, MLA के खिलाफ प्रदर्शन भूप्रेंद्र सिंह हुड्‌डा ने कहा गांधीवादी तरीके से करेंगे विरोध, सरकार रद्द करके अग्निपथ फर्जी दस्तावेज तैयार कर कब्जाई थी जमीनें, पुलिस की गिरेबान पर हाथ डालने के बाद आया था चर्चा में सनी नागपाल भुवनेश्वर कुमार तोड़ेंगे पाकिस्तानी गेंदबाज का रिकॉर्ड डेब्यू मैच में फ्लॉप रहे उमरान मलिक घर में रखा फ्रिज सिर्फ उपकरण नहीं, है वास्तु शास्त्र की रहस्मयी व्याकरण... इस दिशा में रखने से चमक जाता है भाग्य पंचायत के प्रथम चरण के चुनावों के बाद EVM का हुआ रेंडमाइजेशन  जी-7 समिट में हिस्सा लेने जर्मनी पहुंचे पीएम मोदी, प्रवासी भारतीयों ने गर्मजोशी से किया स्वागत

बीते 24 घंटों में महामारी को मात दे चुके हैं 2,51,827 लोग, 3,23,144 आए नए मामले

नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा मंगलवार सुबह जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, बीते 24 घंटों के दौरान संक्रमण से मुक्त हो 2,51,827 लोग अपने घर लौटे हैं वहीं 3,23,144 नए मामले दर्ज किए गए और 2,771 लोगों की मौत हो गई। इसके बाद अब तक देश में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 1,76,36,307 हो गया और मृतकों की संख्या 1,97,894 हो गई है। मंत्रालय के अनुसार, अभी देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 28,82,204 है और डिस्चार्ज हुए मामलों की कुल संख्या 1,45,56,209 है।

16 जनवरी से शुरू हुए वैक्सीनेशन अभियान के तहत अब तक कोरोना वायरस की कुल 14,52,71,186 वैक्सीन लगाई जा चुकी है। महामारी कोविड-19 का सामना कर रहे देश को अब दूसरे देशों से मदद मिलने की शुरुआत हो गई है। इस बीच सोमवार को एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया ने कहा, ‘यदि  आपको कोविड के कोई भी लक्षण हों तो आप खुद को घर में आइसोलेट करें, रिपोर्ट आने का इंतजार न करें। कई बार RT-PCR टेस्ट नेगेटिव भी आ सकता है क्योंकि उसकी संवेदनशीलता 100% नहीं है। उस स्थिति में भी मानकर चलना चाहिए कि आपको COVID-19 है और उसका इलाज करना चाहिए।

भारत में संक्रण का प्रकोप देखते हुए थाइलैंड, सिंगापुर, बांग्लादेश और ब्रिटेन समेत दुनिया के कई देशों ने यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया। वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) के प्रमुख अधनम घेब्रेसस (Tedros Adhanom Ghebreyesus) ने कहा, ‘दुनिया के दूसरे बहुसंख्यक देश भारत में महामारी के कारण हालात हृदय विदारक है। भारत ने कोविड-19 संक्रमण से देश में मचे हाहाकार पर काबू के लिए सशस्त्र सेनाओं को भी तैनात कर दिया। चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDF) जनरल बिपिन रावत (Bipin Rawat) ने सोमवार को कहा था कि आर्म्ड फोर्सेज रिजर्व से ऑक्सीजन रिलीज किया जाएगा और रिटायर्ड मेडिकल अधिकारी उन स्वास्थ्य सुविधाओं से जुड़ेंगे जहां महामारी के कारण बदतर स्थिति है।