ब्रेकिंग
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने जेपी हॉस्पिटल में स्वास्थ्य मेले की व्यवस्थाओं का जायजा लिया एकदंत संकष्टी चतुर्थी कल अप्रैल के जीएसटी कर भुगतान की तारीख बढ़ी वैश्विक स्तर पर अकेले वायु प्रदूषण से 66.7 लाख लोगों की मौत ऑनलाइन गेमिंग, कैसिनो पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने की तैयारी, ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने दी प्रस्ताव को मंजूरी एक दिन की बढ़त के बाद फिसला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी लाल निशान में क्लोज, पॉवर ग्रिड सबसे ज्यादा लुढ़का पीएम आवास योजना को लेकर सरकार ने किया बड़ा ऐलान! सभी पर पड़ेगा असर कश्मीर घाटी में अभी और होगी बारिश, जम्मू में चल सकती है लू, अलर्ट जारी सुप्रीम कोर्ट ने एजी पेरारिवलन को रिहा किया फूड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया में आवेदन की प्रक्रिया जल्द ही शुरू की जा सकती है

जिले में ऑक्सीजन की किल्लत से मचा हाहाकार, समाजसेवी युवकों ने अस्पतालों को दी ऑक्सीजन मशीन

बहराइच: उत्तर प्रदेश के बहराइच जि़ले में ऑक्सीजन की किल्लत और हाहाकार के बीच समाजसेवी युवकों ने अस्पताल को ऑक्सीजन मशीन उपलब्ध कराई है। मेडिकल कॉलेज के एल-1 अस्पताल में भर्ती मरीजों को ऑक्सीजन की आपूर्ति देने के लिए मंगलवार को निर्माणाधीन प्लांट शुरू होने की संभावना है। यहां 24 घंटे के अंदर 64800 लीटर ऑक्सीजन मिल सकेगी। प्रति मिनट औसतन 45 लीटर की आपूर्ति की संभावना है। जिससे कोरोना के गंभीर मरीजों को राहत मिल सकेगी।

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के कारण जिले में ऑक्सीजन की कमी भी सामने आ रही थी। ऑक्सीजन की किल्लत को देखते हुए नगर के मोहल्ला सलारगंज के सरवर अली और उनके 08 साथियों ने गुड़गांव से करीब 16 लाख रुपए की लागत से इस मशीन को खरीदकर अस्पताल को मुहैया कराया है। मशीन को मेडिकल कॉलेज के एल-1 अस्पताल में लगाया जा रहा है। यह पूरा काम उनकी टीम निशुल्क कर रही है।

सरवर अली ने बताया कि मशीन को स्थापित करने के लिए इंजीनियर को बुलाया गया है। देर रात तक अयोध्या से उनके आने की उम्मीद है। मशीन की स्थापना होने के बाद एल-1 में भर्ती मरीजों को सीधे ऑक्सीजन की आपूर्ति हो सकेगी। जिससे मृत्यु दर के ग्राफ में भी कमी आएगी। करीब एक दिन के अंदर 64,800 लीटर ऑक्सीजन मशीन से मिल सकेगी। बताया जाता कि गुड़गांव की कंपनी से ये मशीन एक सप्ताह पूर्व यहां आ गई थी। लेकिन मशीन को लगाने के लिए अयोध्या से इंजीनियर के आने में देर लगाई जा रही थी।

इसकी जानकारी होने पर जिलाधिकारी शंभु कुमार काफी नाराज हुए और उन्होंने तत्काल एसडीएम बाबूराम की अगुवाई में पुलिस फोर्स के साथ एक टीम अयोध्या से इंजीनियर को लाने के लिए रवाना किया है। अभी जो बताया जा रहा है, उसके अनुसार एल-1 के करीब 12 बेड तक ऑक्सीजन की आपूर्ति सुचारु रूप से होगी। मरीज में ऑक्सीजन की क्षमता को देखते हुए यह संख्या करीब 18 बेड तक भी पहुंच सकेगी।