नर्स ने डॉक्टर के गाल पर जड़ा जोरदार थप्पड़, जंग का मैदान बना रामपुर जिला अस्पताल

रामपुर: करोना महामारी से लड़ने वाले चिकित्सा विभाग के कर्मचारियों को फ्रंटलाइन वॉरियर्स कहा जाता है, लेकिन फ्रंटलाइन वॉरियर्स का असलियत में योद्धा वाला रूप देखने को मिला है। मामला रामपुर के जिला अस्पताल का है, जहां किसी फाइल पर हस्ताक्षर को लेकर एक नर्स और डॉक्टर के बीच बवाल हो गया। बहस के दौरान गुस्साई नर्स ने डॉक्टर को जोरदार थप्पड़ जड़ दिया। इस दौरान वहां मौजूद किसी शख्स ने नर्स और डॉक्टर के बीच हो रहे विवाद का वीडियो बना लिया और उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। अब इस मामले में दोनों के अलग-अलग आरोप हैं और प्रशासन दोनों ही जी रुदाद सुनकर मामले को दबाने में जुटा हुआ है।

रामपुर का जिला अस्पताल उस समय जंग का मैदान बनाया है। जब करोना महामारी में अपनी चिकित्सा सेवा प्रदान करें रहे रिटायर्ड सीएमएस बीएम नागर के गाल पर ड्यूटी रूम में एक नर्स ने जोरदार थप्पड़ जड़ डाला। कोरोना महामारी में फ्रंटलाइन कोरोना वॉरियर के रूप में पुकारे जाने वाले डॉक्टर पर नर्स द्वारा किए गए इस हमले ने सबको हैरान कर डाला। बताया जा रहा है नर्स ने डॉक्टर पर यह हमला किसी बात से नाराज होकर किया है। फिलहाल प्रशासन इस मामले को दबाते हुए आपसी सुलह समझौता करने के प्रयास में जुट गया है।

इस मामले में नगर मजिस्ट्रेट रामजी मिश्र ने कहा कि दोनों के अपने-अपने आरोप हैं, मंगलवार को दोनों को बुलाया है। दोनों के बीच जो भी समस्या है उसे सुलझाने का प्रयास किया जाएगा। बताया जा रहा है कि अस्पताल में काफी भीड़ थी और जिसकी वजह से तनाव बढ़ गया, जो घटना घटी वह बेहद ही दुर्भाग्यपूर्ण है। इसकी पूरी जांच की जाएगी। भविष्य में ऐसी घटना फिर न हो इस पर ध्यान दिया जाएगा।