ब्रेकिंग
एक महीने में हुए चार 'दुराचारी सभा' में पहुंचे सिर्फ 844 हिस्ट्रीशीटर,दरी पर बैठना उन्हें नहीं पसंद बोले- 5 साल से कर रहा था तैयारी, अब बना राजस्थान का टॉपर गुरु अमरदास एवेन्यू के निवासियों ने ब्लॉक किया जीटी रोड, MLA के खिलाफ प्रदर्शन भूप्रेंद्र सिंह हुड्‌डा ने कहा गांधीवादी तरीके से करेंगे विरोध, सरकार रद्द करके अग्निपथ फर्जी दस्तावेज तैयार कर कब्जाई थी जमीनें, पुलिस की गिरेबान पर हाथ डालने के बाद आया था चर्चा में सनी नागपाल भुवनेश्वर कुमार तोड़ेंगे पाकिस्तानी गेंदबाज का रिकॉर्ड डेब्यू मैच में फ्लॉप रहे उमरान मलिक घर में रखा फ्रिज सिर्फ उपकरण नहीं, है वास्तु शास्त्र की रहस्मयी व्याकरण... इस दिशा में रखने से चमक जाता है भाग्य पंचायत के प्रथम चरण के चुनावों के बाद EVM का हुआ रेंडमाइजेशन  जी-7 समिट में हिस्सा लेने जर्मनी पहुंचे पीएम मोदी, प्रवासी भारतीयों ने गर्मजोशी से किया स्वागत

पश्चिम बंगाल चुनाव ड्यूटी लौटे 46 सीआरपीएफ जवान, आठ संक्रमित

बिलासपुर। पश्चिम बंगाल से चुनाव ड्यूटी से भरनी स्थित सीआरपीएफ कैंप के 46 जवान मंगलवार की सुबह बिलासपुर लौटे। सुबह छह बजे से बारी- बारी सभी जवानों का जोनल स्टेशन में ही कोरोना जांच की गई। इस दौरान आठ जवान संक्रमित मिले। जिन्हें कैंप में ही होम आइसोलेट रहने का सुझाव दिया गया। सभी का नाम व मोबाइल नंबर भी दर्ज किया गया। ताकि प्रतिदिन उनके स्वास्थ्य स्थिति के जानकारी ली जा सके।

यह जवान पिछले दिनों ही चुनाव स्पेशल ट्रेन में बिलासपुर से पश्चिम बंगाल के लिए रवाना हुए थे। जहां इनकी तैनातगी थी वहां मतदान संपन्न् हो गया है। इसके तहत ही सभी को वापस भेजा गया। हालांकि स्वास्थ्य विभाग को जवानों के वापसी की सूचना नहीं थी। चूंकि स्टेशन में दूसरे राज्यों से पहुंचने वाले सभी यात्रियों की जांच जरुरी है। इसलिए जब जोनल स्टेशन में चुनाव स्पेशल ट्रेन पहुंची। इसमें से उतरे सभी जवानों को जांच कराने के लिए कहा गया।

इस पर सभी गेट क्रमांक चार पर पहुंचे। स्वास्थ्यकर्मियों ने थर्मल स्क्रीनिंग के साथ- साथ सभी की बारी- बारी कोरोना जांच की। जिसमें आठ जवानों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई। इस पर उन्हें अलग कर दिया गया। इसके साथ ही होम आइसोलेट होने के लिए कहा गया। चूंकि भरनी स्थित कैंप में इसकी व्यवस्था है। इसलिए उन्हें कैंप पहुंचकर होम आइसोलेट होने के लिए कहा गया।

इस दौरान अन्य जवान जो उनके संपर्क में आए हैं। उन्हें भी सावधानी बरतने और लक्षण दिखने पर तत्काल सूचना देने के लिए कहा गया। अभी जांच के दौरान उनकी रिपोर्ट पाजिटिव है। पर कभी- कभी लक्षण तुरंत नहीं दिखता। होम आइसोलेट जवानों की स्वास्थ्य विभाग भी काउंसलिंग करेगा। ताकि किसी तरह की परेशानी न हो।

संक्रमित यात्रियों की संख्या नहीं हो रही कम

16 मार्च से स्वास्थ्य विभाग की टीम जोनल स्टेशन में मौजूद है। इस दौरान सभी यात्रियों की जांच भी हो रही है। सोमवार को 24 यात्री संक्रमित मिले थे। मंगलवार को आंकड़ा बढ़ सकता है, क्योंकि सुबह ही एक साथ आठ जवान संक्रमित मिल गए हैं।