संकट काल में फिर काम आई भारतीय रेल, आक्सीजन एक्सप्रेस ने की 510 टन आक्सीजन की ढुलाई

नई दिल्ली। भारतीय रेल एक बार फिर से देश के संकट काल में लोगों के लिए ‘संकटमोचक’ बनकर आई है। एक तरफ देश में लोगों की सांसे आक्सीजन की कमी से उखड़ रही थी तो रेलवे ने इस दौरान अपनी आक्सीजन एक्सप्रेस से ज्यादा से ज्यादा आक्सीजन की मदद जल्दी से पहुंचाई। कोरोना के खिलाफ लड़ाई में रेलवे ने अब तक उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, दिल्ली और मध्य प्रदेश को 510 टन से ज्यादा आक्सीजन पहुंचाई है।रेलवे की ओर से जारी बयान के मुताबिक, हरियाणा सरकार ने भी आक्सीजन एक्सप्रेस के लिए अनुरोध किया है। फरीदाबाद से टैंकर लोड करके उन्हें राउरकेला भेजा जा रहा है।

फिलहाल हरियाणा के लिए पांच-पांच टैंकर वाली दो ट्रेन चलाने की योजना है। मध्य प्रदेश को बुधवार सुबह आक्सीजन एक्सप्रेस के जरिये 64 टन से ज्यादा आक्सीजन की आपूर्ति हुई है। इस ट्रेन से एक टैंकर जबलपुर, दो टैंकर भोपाल और तीन टैंकर सागर में उतारे गए। एक ट्रेन तीन टैंकर लेकर लखनऊ पहुंच रही है। जबकि एक अन्य खाली ट्रेन लखनऊ से बोकारो के लिए रवाना हो चुकी है।

64 मरीज ले रहे कोरोना केयर कोच सेवा का लाभ

रेलवे बुधवार को बताया कि उसने पिछले करीब दो हफ्ते में देशभर में 191 कोरोना केयर कोच उपलब्ध कराए हैं। इनमें 103 मरीजों को भर्ती किया गया और 64 मरीज अभी भी इस सुविधा का लाभ उठा रहे हैं।