ब्रेकिंग
शेयर बाजार में फिर गिरावट का दौर जारी मुख्यमंत्री चौहान संबल योजना के नये स्वरूप संबल 2.0 के पोर्टल का करेंगे शुभारंभ राहुल गांधी ने ऐसे कोई संकेत नहीं दिए कि वो पार्टी के अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ेंगे कांग्रेस चिंतन शिविर: राजस्थान से रायपुर लौटे CM बघेल, एयरपोर्ट पर कांग्रेसियों ने मिठाई खिलाकर किया स्वागत बैंक में पैसा जमा करने व निकालने के संबंध में लाया गया नया नियम, 26 मई से होगा प्रभावी मौनी रॉय की इन तस्वीरों पर दिल हारे फैंस, समुद्र के बीच से शेयर की ग्लैमरस PICS आज फिर बढ़ी सीएनजी की कीमतें CG में जिगरी दोस्त बने दुश्मन: साथियों ने बीच सड़क अपने दोस्त का मुंह किया काला, पीड़ित ने रो-रोकर पुलिस से बताई आपबीती रूह कंपा देने वाली घटना: यात्री बस ने बाइक सवारों को रौंदा, मां और बच्ची की मौके पर ही दर्दनाक मौत बिटक्वाइन 30 हजार डॉलर के नीचे अटका, Dogecoin, Shiba Inu, Solana भी गिरे

कांकेर में नक्सली की लगा दी मूर्ति, विपक्ष ने सरकार को घेरा

रायपुर। कांकेर में नक्सली की मूर्ति लगाने पर विपक्ष ने सरकार को घेरा है। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि प्रदेश सरकार पूरी तरह से नक्सलियों पर लगाम कसने में नाकाम है। अब तो हालत कुछ ऐसे हैं कि कांकेर जिले के एक गांव में नक्सली की मूर्ति लगा दी जाती है। इसकी खबर पुलिस को भी नहीं है।

कौशिक ने इस मूर्ति के लगने पर ही सवाल उठाते हुए कहा कि प्रदेश सरकार के पास नक्सलियों के खात्मा के लिए कोई योजना ही नहीं है। जिस तरह बस्तर में नक्सली लगातार अपने मंसूबों को अंजाम दे रहे हैं। इससे लगता है कि पुलिस का सूचना तंत्र फेल है। इसके कारण ही नक्सली लगातार हावी हैं।

नक्सली की मूर्ति लगने के बाद युवाओं में गलत संदेश जाएगा। भविष्य में उसे शहीद बताकर युवाओं को नक्सल संगठन में शामिल करने की साजिश भी रची जा सकती है। कौशिक ने आरोप लगाया कि नक्सलवाद को लेकर हम 2003 की स्थिति में जा रहे हैं। उस समय नक्सली जिस तरह से मजबूत थे, फिर से उसी दौर में वापसी जैसी स्थिति बन रही है।

इसकी वजह नक्सलियों के खिलाफ प्रदेश सरकार की मजबूत रणनीति का अभाव है। कौशिक ने कहा कि नक्सलियों ने बीजापुर और नारायणपुर में जिस तरह से हमला किया है। इसके साथ ही लगातार निर्दोषों की हत्या कर रहे हैं। पुलिस के एक अधिकारी का अपहरण करके उसकी हत्या कर देते और बस्तर में लगातार कई गाड़ियों को आग के हवाले करके आंतक फैला रहे हैं। इन सब पर प्रदेश सरकार का जरा भी ध्यान नहीं है।