Jain
ब्रेकिंग
महू में दो गुटों में विवाद के बाद बम फोड़ा; 2 की मौत, 15 से ज्यादा घायल रोटी भी बदल सकती है किस्मत डीजीपी का सिल्वर मेडल भी आज लखनऊ में देंगे एडीजी जोन,खुशी की लहर देर शाम आई सभी के पास प्रशासन फोन कॉल, 30 स्वतंत्रता सेनानियों के आश्रितों किया गया था आमंत्रित आजादी के अमृत महोत्सव के लिए रंग बिरंगी रोशनियों से सजा ग्वालियर दुगरी फेस-1 में हुआ हमला,अदालत में गवाही न देने के लिए हमलावर बना रहे थे दबाव भाजयुमो के मंत्री ने कार के सन रूफ से निकलकर झंडे की फोटो की थी पोस्ट 100 फूट ऊंचा लहरा रहा तिरंगा,लाइटों से जगमगाया शहर, दुल्हन की तरह सजी सड़कें रैली निकालकर लगाए भारत माता की जयकारे, बच्चों और ग्रामीणों ने किया समरसता भोज राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने किया ध्वजारोहण

रिमझिम बारिश में मजा हो जाएगा दोगुना

कूर्ग एक खूबसूरत हिल स्टेशन है। यह हिल स्टेशन समुद्र तल से 1452 मीटर की ऊंचाई पर बसा है। जहां से आप खूबसूरत नजारों को एंजॉय कर सकते हैं। चाय, कॉफी और मसालों के बागान इस जगह को और भी ज्यादा खूबसूरत बनाते हैं। इस खूबसूरत जगह को  ‘भारत का स्कॉटलैंड’ और ‘दक्षिण का कश्मीर’ भी कहा जाता है।
1) हरांगी डैम : हरांगी डैम कूर्ग जिले के कुशलनगर के पास हुदगुर गांव में है। कावेरी नदी की सहायक नदी पर बना हरांगी बांध पहला बांध है जो कावेरी नदी पर बनाया गया है। इसकी ऊंचाई 47 मीटर और लंबाई 846 मीटर है जहां से आपको पानी की धारा का खूबसूरत नजारा देखने को मिलता है।
2) होनामना केरे झील : होनामाना केरे कुर्ग में एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। कूर्ग क्षेत्र की सबसे बड़ी झील होने के कारण, होनामाना केरे हर साल पर्यटकों की भीड़ को आकर्षित करती है। ये झील न केवल प्रकृति प्रेमियों को बल्कि धार्मिक पर्यटकों को भी आकर्षित करती है। झील के पास स्थित देवी होन्नम्मा को समर्पित एक मंदिर भी देखा जा सकता है।
3) ओंकारेश्वर मंदिर :  मदिकेरी में फेमस शिव मंदिर ओंकारेश्वर मंदिर 1820 में लिंग राजेंद्र द्वारा बनाया गया था। मंदिर के सामने एक खूबसूरत तालाब है। मंदिर के बीच में चारों ओर चार मीनारें और एक गुम्बद है। एक फुटपाथ मंडप की ओर जाता है।
4) मल्लल्ली फॉल्स : पुष्पगिरी हिल रेंज के तल पर बसा  मल्लल्ली फॉल्स कुछ समय बिताने के लिए कूर्ग में सबसे अच्छी जगहों में से एक है। ये फॉल्स ट्रेकिंग के लिए भी अच्छे हैं। मानसून के मौसम के दौरान और जुलाई से दिसंबर के महीनों के बीच फॉल्स की यात्रा करने का सबसे अच्छा समय है। मानसून के मौसम में, झरने में ज्यादा पानी होता है जिससे यह और अधिक सुंदर और फ्रेश दिखता है।
5) मंडलपट्टी ट्रेक : सामान्य भीड़ से दूर कुछ एकांत समय बिताने के लिए ये जगह बेस्ट है। यह स्थान ट्रेकिंग लवर्स के लिए एकदम सही है। ट्रेकिंग पर जाने के लिए, ट्रेकर्स को मंडलपट्टी के लिए एंट्री टिकट लेना होता है।