ब्रेकिंग
विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद छत्तीसगढ़ भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष होंगे किरण सिंह देव

शराब दुकान बंद, फिर भी गली-गली में चार गुना दाम में खुलेआम बिक रही है शराब

भिलाई। दुर्ग जिले में बीते एक महीन से लॉकडाउन है। शराब दुकाने बंद हैं। फिर भी गली-गली में शराब उपलब्ध है। चार गुना दामों में शराब बेची और खरीदी जा रही है। जो लोग शराब नहीं खरीद पा रहे हैं, वे लोग मधु मुनक्का और मेडिकल स्टोर में मिलने वाली टेबलेट का इस्तमाल करने लगे हैं।

बता दें कि दुर्ग जिले में छह अप्रैल से लॉकडाउन है। पांच अप्रैल से देशी-अंग्रेजी शराब दुकानें बंद हैं। शराब का परिवहन बंद है, पर भी शहर में शराब मिल रही है। शहर में हर ब्रांड की शराब आसानी से उपलब्ध है। टाउनशिप का क्षेत्र हो, कोहका, सुपेला, कैंप क्षेत्र, खुर्सीपार, भिलाई-तीन चरोदा में खुलेआम शराब बेची व खरीदी जा रही है।

शहर के लोग सवाल उठा रहे हैं कि जब सभी जिलों की सीमााएं सील है, प्रदेश की सीमा सील है, चौक-चौराहों पर पुलिस तैनात है, उसके बाद भी लॉकडाउन में शराब आ कहां से रही है। शराब के शौकिन चार गुना ज्यादा कीमत में बिक रही शराब भी खरीद रहे हैं।

इन ब्रांडों के इतने दाम

– 80 रुपये वाला देशी प्लेन- 250 रुपये

– 90 रुपये वाला देशी मसाला- 300 रुपये

– 120 वाला गोवा (अंग्रेजी)- 350 से 400 रुपये में

-इसी तरह दो सौ से 250 रुपये वाला अंग्रेजी का क्वाटर- 550 रुपये से 650 रुपये में

-700 सौ से 12, 15 सौ वाले अंग्रेजी शराब के बोतल की कीमत तीन हजार से चार हजार रुपये में बेची जा रही है।

महुआ व संतरी की भी डिमांड

जिन लोगों को देशी व अंग्रेजी नहीं मिल पा रही है. वे लोग जंगल इलाकों से महुवा की शराब मंगा रहे हैं। कुछ लोग महाराष्ट्र की संतरी को भी ऊंचे दामों में शहर में खपा रहे हैं।

शहर में ये भी शुरू

जिन लोगों को शराब उपलब्ध नहीं हो पा रही है, वो किराना दुकानों व पान ठेलों से मधु मुनक्का लेकर खा रहे हैं। ज्यादातर लोग मेडिकल स्टोर में मिलने वाली टेबलेट का सेवन कर रहे हैं।