ब्रेकिंग
सतगुरू कबीर संत समागम समारोह दामाखेड़ा पहुंच कर विधायक इन्द्र साव ने लिया आशीर्वाद विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद

बारिश से टूटी किसानों की कमर, रबी धान फसल खराब

धमतरी। पिछले तीन-चार दिनों से रुक-रुक कर हो रही बारिश ने किसानों की कमर तोड़ दी है। जमीन पर गिरे धान फसल, करपा, बीड़ा व खलिहानों में रखे धान भींग गए हैं। लगातार बारिश होने से धान के पौधों व धान में अंकुरण आना शुरू हो गया है।

इससे किसानों को भारी नुकसान हुआ है। कटाई-मिंजाई पूरी तरह से प्रभावित है, लेकिन बारिश का सिलसिला थम नहीं रही है। इससे किसानों की धड़कने बढ़ गई है। वहीं, गर्मी के इस मौसम में बरसात की तरह लगातार बारिश होने से जनजीवन प्रभावित है।

मई में पड़ने वाले भीषण गर्मी के इस मौसम में पिछले चार दिनों से रुक-रुक कर बारिश का सिलसिला जारी है। जिससे जनजीवन पूरी तरह से प्रभावित है। मंगलवार सुबह मौसम खराब होने के साथ करीब एक घंटे से अधिक समय तक झमाझम बारिश हुई। वहीं तेज गर्जना जारी है। आसमान पर बादल छाया हुआ है।

हालांकि यह बारिश लाकडाउन के लिए वरदान साबित हुई है। लोग घरों से बाहर नहीं निकल रहे हैं। सड़कों व गलियों में सन्नाटा है। वहीं, खराब मौसम का विपरीत असर लोगों की सेहत पर पड़ने लगा है। कई लोग सर्दी, खांसी, बुखार जैसे मौसमी बीमारी से अब परेशान है, ऐसे में कोरोना संक्रमण का खतरा फिर मंडराने लगा है।

खेतों में भरा पानी, धान भींगे

अंचल में लगातार हो रही बारिश से रबी धान फसल पानी में भींग गई। किसान कामदेव साहू, गीतेश कुमार, रामकुमार, किशोर साहू ने बताया कि इस बारिश ने किसानों की कमर तोड़कर रख दिया। खेतों में तैयार रबी धान फसल पानी में भीग गए। जमीन पर गिरे धान, करपा, बीड़ा व खलिहानों पर रखे धान भीगने से अंकुरित होने लगे हैं। इससे किसानों को भारी नुकसान हुआ है। जमीन पर पानी होने से कटाई-मिंजाई बंद है। कई किसान फसल बचाने खेतों में भरे पानी से फसल को निकाल रहे हैं। इस साल रबी सीजन में बेमौसम बारिश से किसानों को भारी नुकसान हुआ है।