Jain
ब्रेकिंग
महू में दो गुटों में विवाद के बाद बम फोड़ा; 2 की मौत, 15 से ज्यादा घायल रोटी भी बदल सकती है किस्मत डीजीपी का सिल्वर मेडल भी आज लखनऊ में देंगे एडीजी जोन,खुशी की लहर देर शाम आई सभी के पास प्रशासन फोन कॉल, 30 स्वतंत्रता सेनानियों के आश्रितों किया गया था आमंत्रित आजादी के अमृत महोत्सव के लिए रंग बिरंगी रोशनियों से सजा ग्वालियर दुगरी फेस-1 में हुआ हमला,अदालत में गवाही न देने के लिए हमलावर बना रहे थे दबाव भाजयुमो के मंत्री ने कार के सन रूफ से निकलकर झंडे की फोटो की थी पोस्ट 100 फूट ऊंचा लहरा रहा तिरंगा,लाइटों से जगमगाया शहर, दुल्हन की तरह सजी सड़कें रैली निकालकर लगाए भारत माता की जयकारे, बच्चों और ग्रामीणों ने किया समरसता भोज राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने किया ध्वजारोहण

पुलेला गोपीचंद ने कहा: आज भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों ने खुद को एक सुपरपॉवर के रूप में स्थापित किया है

फरीदाबाद। पत्रकारों से बात करते हुए गोपीचंद।बैडमिंटन खिलाड़ी पुलेला गोपीचंद की हैदराबाद स्थित बैडमिंटन गुरुकुल अकादमी के साथ मिलकर इसे शुरू किया गया है।सेक्टर-88 स्थित मॉडर्न विद्या निकेतन ( एमवीएन ) स्कूल में शनिवार को बैडमिंटन अकादमी शुरू हुई। बैडमिंटन खिलाड़ी पुलेला गोपीचंद की हैदराबाद स्थित बैडमिंटन गुरुकुल अकादमी के साथ मिलकर इसे शुरू किया गया है। पुलेला गोपीचंद भारत की राष्ट्रीय बैडमिंटन टीम के मुख्य राष्ट्रीय कोच और बैडमिंटन गुरुकुल के संस्थापक और संरक्षक हैं। स्कूल परिसर में दोनों पक्षों ने समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया। अकादमी शुरू करने का उद्देश्य छात्रों को बैडमिंटन में उकृष्टता प्राप्त करने में मदद करना है। इस मौके पर बैडमिंटन गुरुकुल अकादमी की सहसंस्थापक और एमडी सुप्रिया, एमवीएन सोसाइटी के चेयरमैन वरुण शर्मा और एमवीएन सोसाइटी की मैनेजिंग डायरेक्टर कांता शर्मा मौजूद थीं।खेल की बारीकियों पर चर्चा:इस दौरान छात्रों, शिक्षकों और अतिथियों ने बैडमिंटन खिलाड़ी पुलेला गोपीचंद के साथ खेल की बारीकियों पर चर्चा की। पुलेला ने कहाकि उन्होंने बैडमिंटन गुरुकुल की शुरुआत फिजिकल लिटरेसी को बढ़ावा देने और एक संगठित और व्यवस्थित तरीके से गुणवत्तापूर्ण कोचिंग के माध्यम से सकारात्मक खेल की दिशा में आगे बढ़ने के लिए किया था। इस दौरान पत्रकारों से बात करते हुए गोपीचंद ने कहा कि भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों ने खुद को एक सुपरपॉवर के रूप में स्थापित किया है। इस तथ्य की पुष्टि इस बात से होती है कि हमारे चैंपियन ने मई 2022 में थॉमस कप फाइनल में 3-0 से जीत के साथ 14 बार के चैंपियन इंडोनेशिया को पीछे कर दिया था। उन्होंने कहा यह सही समय है जब हम युवाओं को खेल में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित करें। मुझे एमवीएन के साथ जुड़कर आज बेहद खुशी हो रही है। जो फिजिकल लिटरेसी को बढ़ावा देने के लिए यह शिक्षा और खेल पर समान रूप से ध्यान देता है। मुझे उम्मीद है एमवीएन स्कूल और बैडमिंटन गुरुकुल अकादमी के बीच साझेदारी भविष्य के बैडमिंटन चैंपियन को सशक्त बनाएगी।एमवीएन से जुड़ना सौभाग्य की बात:बैडमिंटन गुरुकुल अकादमी की सहसंस्थापक और प्रबंध निदेशक सुप्रिया ने कहा कि एमवीएन सेक्टर-88 से जुड़ना मेरे लिए सम्मान और सौभाग्य की बात है। यह एसोसिएशन बच्चों में शैक्षणिक और फिजिकल लिटरेसी को विकसित करने के लिए खेल और शिक्षा को एक साथ जोड़ती है और उन्हें खेल और क्लास दोनों में उत्कृष्टता प्राप्त करने में सक्षम बनाती है। एमवीएन सोसाइटी के चेयरमैन वरुण शर्मा ने नए एसोसिएशन पर प्रसन्नता जताते हुए इसे प्रतिभा और अनुभव का संगम बताते हुए कहा कि मैं गोपीचंद का आभारी हूं कि उन्होंने अपनी आभा और उपलब्धियों के साथ संस्थान की विरासत को समृद्ध करने के लिए एमवीएन परिवार के साथ जुड़ने की सहमति दी। एमवीएन की प्राचार्य विभा मेंदीरत्ता ने कहा मुझे विश्वास है कि यह एसोसिएशन खेल के सर्वोत्तम ज्ञान को एक साथ लाएगी। जिससे शिक्षार्थियों को इस क्षेत्र में उत्कृष्टता प्राप्त करने में मदद मिलेगी। उम्मीद है इस साझेदारी से कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय चैंपियन उभरेंगे।