जेल प्रबंधन ने खुली मुलाकात पर लगाया प्रतिबंध, जिला जेल में अभी हैं 485 बंदी

बैतूल: जेल में बंद कैदियों को उनकी बहनें गुरुवार खुली मुलाकात में राखी नहीं बांध सकेंगी। जेल प्रबंधन ने खुली मुलाकात पर प्रतिबंध लगा दिया है।जिला जेल अधीक्षक योगेंद्र पवार के मुताबिक रक्षाबंधन के पर्व पर 11 अगस्त को जिला जेल बैतूल में बंदियों की केवल बहनों को ही जाली इंटरकम सिस्टम से बात कराई जाएगी। बहनें अपने बंदी भाई को इंटरकाम जाली मुलाकात के दौरान राखी, रूमाल, फल (दो नग) एवं टीका के लिए कुमकुम सामग्री कागज के पैकेट में जमा कर सकते हैं।2021 में रक्षाबंधन पर्व पर खुली मुलाकात पूर्णत: बंद रही है। इस बार भी रक्षाबंधन पर्व पर खुली मुलाकात प्रतिबंधित रहेगी। पवार ने बताया की बहनों को इस बार सिर्फ इंटरकाम पर बात कराई जाएगी। उन्होंने कहा की 2020-21 से सीधी मुलाकात बंद कर दी गई है। बता दें कि बैतूल जिला जेल में इस समय 485 बंदी हैं। इनमें 453 पुरुष और 32 महिलाएं बंद हैं।