ब्रेकिंग
विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद छत्तीसगढ़ भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष होंगे किरण सिंह देव

Elephant Attacked: हाथी ने फिर ली ग्रामीण की जान

महासमुंद।  जिला मुख्यालय से आठ किमी पर स्थित ग्राम पतेरापाली अरंड में बुधवार की रात टहलने के लिए निकले दो ग्रामीणों में से एक पर हाथी ने हमला कर दिया। वहीं, दूसरे व्यक्ति ने भाग कर अपनी जान बचाई। इस घटना की जानकारी होने पर पर वन विभाग एवं पुलिस की टीम घटना स्थल पर पंहुच गई।

हाथी भगाओ फ़सल बचाओ समिति सिरपुर के संयोजक राधेलाल सिन्हा से मिली जानकारी के अनुसार बुधवार की रात एक दतैल ने ग्राम पतेरापाली (महासमुंद) में अरंड निवासी बाबूलाल ध्रुव पिता जेठू राम उम्र 60 वर्ष को बुरी तरह से कुचल दिया, जिससे बाबूलाल की मौके पर ही मौत हो गई।

बताया जाता है कि मृतक बाबूलाल साढ़े आठ बजे के आसपास एक रिश्‍तेदार के साथ टहलने के लिए निकले थे। अचानक मुर्गी फार्म के पास हाथी के आ जाने से बाबूलाल भाग नहीं सके। हाथी ने हमला कर दिया। वहीं, युवराज ध्रुव भागकर किसी तरह अपनी जान बचा सके। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा है।

जिले में हाथी की समस्या 2016 से है। इन वर्षों में 26 से अधिक लोगों की मौत हो गई है। हाथी से मौत का पहला मामला 2016 में केडियाडीह (सिरपुर) से आया था। इसके बाद से यह सिलसिला थमा नहीं है। मोहंदी अरण्ड क्षेत्र में मौत की यह तीसरी घटना है।

बता दें कि महासमुंद वन परिक्षेत्र बीते तीन दिनों से भालू को पकड़ने के जुटा है। पतेरापाली की ओर से दो वर्षीय भालू सोमवार सुबह महासमुंद शहर में पहुंचा। यहां दिनभर उत्पात मचाने के बाद रात में तुमगांव की ओर भागा। वन अमला भालू को पकड़ने लगातार लगा है। लेकिन भालू अबतक पकड़ा नहीं गया। भालू की ओर अमले का ध्यान लगा रहा। इधर, सिरपुर जंगल से अरंड की ओर आ चुके दतैल में ग्रामीण की जान ले ली।

नहीं थी लोकेशन की खबर

इधर, ग्रामीणों ने बताया कि वन क्षेत्र में हाथी होने की खबर नहीं थी। वन विभाग ने भी मुनादी नहीं कराई थी। दरअसल वन विभाग का ध्यान भालू ने भटका रखा था। हाथी के तरफ़ ध्यान कम हो गया,जिससे हाथी के लोकेशन की सही जानकारी नहीं थी।