ब्रेकिंग
सतगुरू कबीर संत समागम समारोह दामाखेड़ा पहुंच कर विधायक इन्द्र साव ने लिया आशीर्वाद विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद

दिल्ली के डेढ़ लाख से अधिक ऑटो-टैक्सी चालकों को आज से दिए जाएंगे 5000-5000 रुपये

नई दिल्ली। दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी सरकार सोमवार से बड़ी राहत देते हुए एक लाख 56 हजार ऑटो और टैक्सी वालों के खाते में पांच-पांच हजार रुपये डालेगी। दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत (Delhi Transport Minister Kailash Gehlot) ने रविवार को ऑटो व टैक्सी चालकों के साथ ऑनलाइन हुई बैठक में यह भरोसा दिया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि जिन लोगों का पिछले साल किसी कारण से पंजीकरण नहीं हो सका था और उन्हें राशि नहीं मिल सकी थी, ऐसे चालक मंगलवार से अपना पंजीकरण करा सकेंगे।

लॉकडाउन के चलते दिल्ली सरकार ने ऑटो व टैक्सी चालकों को पांच हजार रुपये की आर्थिक मदद की घोषणा की है। आटो टैक्सी चालक इस राशि के इंतजार में हैं। मदद के इंतजार में ऐसे एक लाख 56 हजार ऑटो और टैक्सी चालक हैं। ये वे लोग हैं जिन्हें पिछले साल भी सरकार की ओर से लॉकडाउन में मदद मिली थी। इन लोगों की मदद के लिए ऑटो टैक्सी से जुड़े संगठन मांग भी कर रहे हैं।

यहां पर बता दें कि कोरोना वायरस संक्रमण महामारी के चलते दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी सरकार के मुखिया अरविंद केजरीवाल ने पिछले वर्ष की तरह ऑटो-टैक्सी, ई-रिक्शा मालिक व अन्य छोटे व्यावसायिक वाहनों के परमिट धारकों को पांच हजार रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की थी। इस प्रस्ताव को अब कैबिनेट से मंजूरी भी मिल चुकी है। वे पीएसवी (पब्लिक सर्विस व्हीकल) बैज धारक जिनका बैज और लाइसेंस एक फरवरी 2020 तक मान्य था, वह भी योजना के पात्र हैं।

यहां पर बता दें कि कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर ने ज्यादा भीषण कहर बरपाया, जिसके चलते दिल्ली समेत कई राज्यों में कहर बरपाया, जिससे लॉकडाउन तक लगाने का फैसला लेना पड़ा। ऐसे में कारोबार, बाजार और रोजगार प्रभावित हुए और इसका सीधा असर ऑटो-टैक्सी चालकों की कमाई पर पड़ा।