ब्रेकिंग
विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद छत्तीसगढ़ भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष होंगे किरण सिंह देव

विवाद के बीच परेश बी. लाल बनें WhatsApp के ग्रीवांस ऑफिसर, यूजर्स यहां दर्ज करा पाएंगे अपनी शिकायत

नई दिल्ली। WhatsApp New Privacy Policy: इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp अपनी नई प्राइवेसी को लेकर पिछले काफी समय से चर्चा में बना हुआ है। हालांकि अब WhatsApp ने विवाद के बीच परेश बी. लाल को अपना ग्रीवांस ऑफिसर नियुक्त कर दिया है। WhatsApp की वेबसाइट से इसका खुलासा हुआ है। दरअसल WhatsApp ने नये आईटी रूल्स के तहत परेश बी. लाल की नियुक्ति की है, जो पिछले हफ्ते से देशभर में सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के लिए लागू हो गये हैं। जिन सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के 50 लाख से ज्यादा यूजर्स हैं, उन्हें ग्रीवांस ऑफिसर नोडल ऑफिसर और चीफ कम्पलायंस ऑफिसर नियुक्त करना अनिवार्य है। यह सभी अधिकारी भारत के रहने वाले होने चाहिए।

यूजर यहां कर सकते हैं कॉन्टैक्ट 

WhatsApp की वेबसाइट के मुताबिक यूजर परेश बी. लाल से कॉन्टैक्ट कर सकते हैं, जो कि ग्रीवांस ऑफिसर हैं। इन्हें तेलंगाना के हैदराबाद स्थित बंजारा हिल्स के पते पर शिकायत भेजी जा सकती है। हालांकि शुरुआत में ग्रीवांस अधिकारी की नियुक्ति पर WhatsApp की तरफ से कोई जवाब नहीं दिया गया था। वहीं अन्य डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे Google ने नये सोशल मीडिया रूल्स को फॉलो करते हुए अपनी वेबसाइट को अपडेट करना शुरू कर दिया है। Google के’ Contact Us’ पेज पर Jeo Grier का नाम दिख रहा है, जिनका पता Mountain View, US दिख रहा है। वहीं Youtube ने भी ग्रीवांस अधिकारी की डिटले दर्ज कर दी है।

क्या है नई गाइडलाइन

  • सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को भारत में नोडल ऑफिसर, रेसिडेंट ग्रीवांस ऑफिसर तैनात करना होगा।, जो इंडिया में बेस्ड होगा। इस ऑफिसर को 15 दिनों के भीतर ओटीटी कंटेंट के खिलाफ मिलने वाली शिकायतों का निवारण करना होगा।
  • नई गाइडलाइन के तहत सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को एक मंथली रिपोर्ट जारी करनी होगी, जिसमें शिकायतों और उनके निवारण की जानकारी होगी। साथ ही किन पोस्ट और कंटेंट को हटाया गया और इसकी क्या वजह थी। इसके बारे में विस्तार से जानकारी देनी होगी। सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के पास इंडिया का फिजिकल पता होना चाहिए, जो कंपनी के मोबाइल ऐप और वेबसाइट पर दर्ज होना चाहिए।
  • नए दिशा-निर्देशों के अनुसार शिकायत के 24 घंटे के अंदर इंटरनेट मीडिया से आपत्तिजनक कंटेंट को हटाना होगा। इसके अलावा कंपनियों को एक शिकायत निवारण तंत्र रखना होगा और शिकायतों का निपटारा करने वाले ऑफिसर को भी रखना होगा। 24 घंटे में शिकायत का पंजीकरण होगा और 15 दिनों में उसका निपटारा होगा
  • केंद्र की मानें, तो नये रूल्स को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के गलत इस्तेमाल को रोकने के हिसाब से डिजाइन किया गया है।