ब्रेकिंग
विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद छत्तीसगढ़ भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष होंगे किरण सिंह देव

नूंह के मुस्लिम परिवारों ने श्रीराम मंदिर के लिए दिल खोलकर दिया दान, हरियाणा में अब तक 55 करोड़ एकत्र

चंडीगढ़। हरियाणा के लोगों ने अयोध्या में जिस तरह बढ़ चढ़कर कारसेवा की थी, उसी तरह भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर बनवाने में यहां के लोगों ने दिल खोलकर दान दिया है। प्रदेश में करीब 63 लाख परिवार हैं। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ, विश्व हिंदू परिषद और भाजपा के कार्यकर्ता इनमें से करीब 42 लाख घरों तक सीधे पहुंचे। प्रदेश के लोगों ने एक रुपये से लेकर पांच लाख रुपये तक मंदिर निर्माण के लिए दान दिया है। मंदिर निर्माण के लिए दिए जाने वाले दान की गिनती की जा रही है, लेकिन मोटे तौर पर करीब 55 करोड़ रुपये इकट्ठा होने का अनुमान है।

भगवान श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए निधि इकट्ठा करने को एक राज्य स्तरीय अभियान समिति का गठन किया गया था, जिसके संयोजक राकेश त्यागी (फरीदाबाद) रहे। विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय सचिव डा. सुरेंद्र जैन और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के तमाम बड़े पदाधिकारियों की छत्रछाया में यह अभियान चला। रविवार को रोहतक के खुशबू गार्डन में अभियान समिति की समीक्षा बैठक में हरियाणा से इकट्ठा हुई राशि पर संतोष जाहिर किया गया और साथ ही इस बात पर जोर दिया गया कि यदि लोग अभी भी दान देना चाहें तो वह आनलाइन जमा करा सकते हैं।

हरियाणा के जिला नूंह के लोगों ने भी श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए खासा दान दिया है। अभियान समिति के एजेंडे में हालांकि यह नहीं था कि वह सभी घरों तक दस्तक देगी, लेकिन मेवात के जिन मुस्लिम बाहुल्य घरों में जाने की योजना भी नहीं थी, वहां के लोगों ने भी अपनी श्रद्धा के साथ खुद घर के दरवाजे खोले और स्वेच्छा से निधि प्रदान की। विहिप के राष्ट्रीय सचिव डा. सुरेंद्र जैन इस बदले माहौल को देश-प्रदेश के भाईचारे के लिए बेहद सुखद मानते हैं।

डा. सुरेंद्र ने नूंह जिले के गांव पल्ला का उदाहरण दिया। उन्होंने बताया कि करीब 300 परिवारों वाले इस गांव में हिंदुओं की संख्या मात्र 15 फीसद है, लेकिन अधिकतर मुस्लिम परिवारों ने मंदिर निर्माण के लिए स्वेच्छा से योगदान दिया है। कार्यकर्ताओं को यह देखकर बेहद सुखद लगा। किसी में कहीं कोई भय नहीं था। दान देते वक्त हिंदू या मुस्लिम की भावना भी किसी के चेहरे पर देखने को नहीं मिली। जब पर्ची काटने में दिक्कतें होने लगी तो कुछ मुस्लिम युवाओं ने अभियान समिति के सदस्यों का सहयोग किया। यह बहुत अच्छी बात है। अब ऐसा साफ लग रहा था कि श्रीराम ही मेवात के हिंदू समाज के उत्साह को बढ़ाएंगे, जिससे उनकी समस्याओं का समाधान होगा।

डा. सुरेंद्र ने नूंह जिले के गांव पल्ला का उदाहरण दिया। उन्होंने बताया कि करीब 300 परिवारों वाले इस गांव में हिंदुओं की संख्या मात्र 15 फीसद है, लेकिन अधिकतर मुस्लिम परिवारों ने मंदिर निर्माण के लिए स्वेच्छा से योगदान दिया है। कार्यकर्ताओं को यह देखकर बेहद सुखद लगा। किसी में कहीं कोई भय नहीं था। दान देते वक्त हिंदू या मुस्लिम की भावना भी किसी के चेहरे पर देखने को नहीं मिली। जब पर्ची काटने में दिक्कतें होने लगी तो कुछ मुस्लिम युवाओं ने अभियान समिति के सदस्यों का सहयोग किया। यह बहुत अच्छी बात है। अब ऐसा साफ लग रहा था कि श्रीराम ही मेवात के हिंदू समाज के उत्साह को बढ़ाएंगे, जिससे उनकी समस्याओं का समाधान होगा।

राज्य स्तरीय अभियान समिति के संयोजक राकेश त्यागी के अनुसार अगले एक-दो दिन में पूरा आंकड़ा सामने आ जाएगा, लेकिन मोटे तौर पर 41 लाख 53 हजार 271 परिवारों ने भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर निर्माण के लिए 52 करोड़ 38 लाख रुपये जमा कराए हैं। यह अभियान अधिकृत रूप से बंद हो चुका है, लेकिन अभी भी लोग दान दे सकते हैं।

हमने दरवाजा नहीं खटखटाया फिर भी मिला दान

राकेश त्यागी के अनुसार हमें यह निर्देश थे कि रामभक्त परिवारों के यहां जाना है। हमने मुस्लिम भाइयों के घरों का दरवाजा नहीं खटखटाया, लेकिन हमारे लिए यह सुखद है कि उन्होंने स्वयं आकर दान दिया। फिर हमने ऐसे परिवारों के यहां स्वयं भी दस्तक दी। विहिप के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल के अनुसार राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ का उद्देश्य है जो आज हमारा है वो तो है ही, जो रह गए हैं, कल उन्हें भी अपना बनाना है।