ब्रेकिंग
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट का किया वर्चुअल भूमि पूजन कुतुब मीनार परिसर में होगी खुदाई-मूर्तियों की Iconography राष्ट्रीय स्तर के खेलों का आधारभूत ज्ञान दें विद्यार्थियों को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत जिले के 13 हजार 976 किसानों के खाते में 9.68 करोड़ रूपए किया अंतरण नगरीय निकाय आरक्षण को लेकर बड़ी खबर: भोपाल में भी नए सिरे से होगा आरक्षण, बढ़ सकती है ओबीसी वार्डों की संख्या छत्तीसगढ़ की जैव विविधता छत्तीसगढ़ का गौरव है : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मोतिहारी के सिकरहना नदी में नहाने के दौरान तीन बच्चे डूबे मुजफ्फरपुर में प्रिंटिंग प्रेस कर्मी की गोली मारकर हत्‍या  दो माह में 13 बार बढ़ी सीएनजी की कीमत हार्दिक के जाने के बाद नरेश पटेल को रिझाने में जुटी कांग्रेस

केरल चुनाव: कांग्रेस ने मुख्यमंत्री पर लगाया आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप, चुनाव अधिकारी से शिकायत

तिरुवनंतपुरम। केरल में विधानसभा चुनाव की सरगर्मियां तेज हो गई हैं।इस बीच, कांग्रेस ने केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन के खिलाफ चुनाव आयोग से शिकायत की है। कांग्रेस ने विजयन पर आदर्श चुनाव आचार संहिता( Model Code of Conduct) के उल्लंघन का आरोप लगाया है। विपक्ष के नेता रमेश चेन्निथला ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी के समक्ष शिकायत दर्ज कराते हुए आरोप लगाया कि सीएम पिनाराई विजयन ने 4 मार्च और 6 मार्च को प्रेस से मुलाकात के दौरान नए कार्यक्रमों और नीतियों की घोषणा करके आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी तीखा राम मीणा को दी गई शिकायत में कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि विजयन ने एक संवाददाता सम्मेलन में 4 और 6 मार्च को नए कार्यक्रमों और नीतियों की घोषणा की, जो साफ तौर पर आदर्श चुनाव आचार संहिता( Model Code of Conduct) का उल्लंघन है। चेन्निथला ने कहा कि यह स्वीकार किया जाता है कि चुनाव की घोषणा के बाद केवल मुख्य सचिव या जनसंपर्क विभाग को सरकार की नई नीति या सरकार के बारे में बात करनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने इसका उल्लंघन किया है।

उन्होंने मामले में मीणा से हस्तक्षेप की मांग की है और उनसे यह निर्देश देने को कहा है कि सरकार की घोषणाएं मुख्य सचिव के माध्यम से ही की जानी चाहिए। 14 जिलों में 140 सदस्यीय केरल विधानसभा के लिए चुनाव 6 अप्रैल को एक चरण में होगा। मतों की गिनती 2 मई को होगी। मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन और गृह मंत्री अमित शाह द्वारा हाल ही में राज्य में सोने की तस्करी के मामले में आरोपों के आदान-प्रदान के बारे में बोलते हुए विष्णुनाद ने कहा कि अमित शाह ने केरल के सीएम पिनाराई विजयन की शंकुमुगम में अपने भाषण में आलोचना की। अगले दिन, विजयन ने शाह की आलोचना की। दोनों फर्जी मुठभेड़ों के विशेषज्ञ हैं, उनकी एक-दूसरे की आलोचना नकली है।