ब्रेकिंग
आर्थिक आधार से गरीब लोगों के आरक्षण में कटौती के विरोध में आज भाटापारा अनुविभागीय अधिकारी के कार्यालय जाकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा सत्तापक्ष पर जमकर बरसे विधायक शिवरतन शर्मा, आरक्षण रुकवाने जो लोग कोर्ट गए उन्हें मुख्यमंत्री जी पुरस्कृत करते हैं,सत्र ... रायपुर विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा में आरक्षण बिल के दौरान ब्राह्मण नेताओं पर जमकर बरसे बलौदाबाजार विधायक प्रमोद शर्मा, उनके मुंह पर करारा तमाचा मार... अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद भाटापारा नगर इकाई की हुई घोषणा मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने मंडी समिति के नए सदस्य को दिलाई शपथ, उद्बोधन में कहा भारसाधक पदाधिकारीयो की नियुक्ति के बाद से मंडी लगातार चहुमुखी विकास क... मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने धान ख़रीदी केंद्रो का निरीछन कर, धान बेचने आये किसानो से मुलाक़ात कर, धान बेचने में आने वाली समस्या की जानकारी ली, किसानों... ग्राम मर्राकोना में नवीन धान उपार्जन केंद्र के शुभारंभ अवसर पर मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने कहा भूपेश सरकार किसानों की सरकार है ग्राम मर्राक़ोंना में नवीन धान उपार्जन केंद्र को मिली हरी झंडी मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने दी जानकारी ट्रक चोरी करने वाले 06 आरोपियो को किया गया गिरफ्तार, मंडी के पास लिंक रोड के किनारे खड़ी ट्रक को किया था चोरी, उड़ीसा से हुई बरामद रायपुर में शिवमहापुराण कथा:पंडित प्रदीप मिश्रा का प्रवचन सुनने लाखों लोग पहुंचे , अनुमान से अधिक लोगों के पहुंचने के कारण पंडित जी को कहना पड़ा घर में...

CM शिवराज सिंह का एलान- मध्य प्रदेश में 30,000 से अधिक शहीदों के लिए युद्ध स्मारक स्थापित होंगे

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज राज्य में ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ की शुरुआत की। यह कार्यक्रम देश की आजादी के 75 साल पूरे होने पर पूरे देश में मनाया जा रहा है। बता दें कि भारत की आजादी को 15 अगस्त 2022 में 75 वर्ष हो जाएंगे। मोदी सरकार ने यह फैसला किया है कि देश की आजादी की 75वीं वर्षगांठ के 75 हफ्ते पहले से ही पूरे देश में आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रमों का आयोजन होगा, जिसके जरिए देशभक्ति का संदेश दिया जाएगा।

मध्य प्रदेश में इस कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि हमे सिखाया कि हमें स्वतंत्रता दिलाने में सिर्फ कुछ लोगों का योगदान है, लेकिन कई महान नेताओं को इतिहास की पुस्तकों से बाहर रखा गया। उन्होंने कहा कि आजादी के 75 साल पूरे होने की खुशी में प्रदेश में 30,000 से अधिक शहीदों के लिए युद्ध स्मारक स्थापित किए जाएंगे।

इसके साथ ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि एक तरफ महात्मा गांधी के नेतृत्व में सत्याग्रह चल रहा था तो दूसरी तरफ गरज रहे थे हमारे अमर शहीद नेताजी सुभाषचंद्र बोस जिन्होंने सबसे पहले मणिपुर और अंडमान निकोबार में तिरंगा झंडा लहरा कर भारत को स्वतंत्र करने का एलान कर दिया था। उन्होंने कहा कि शहीद-ए-आज़म भगत सिंह को फांसी की सजा हुई, अगर चाहते तो वह भाग सकते थे, लेकिन भागे नहीं। साथियों ने उन्हें छुड़ाने की योजना बनाई। यह जानकर भगत सिंह का चेहरा गुस्से से लाल हो गया। उन्होंने कहा कि एक भगत सिंह मरेगा तो हज़ारों भगत सिंह पैदा होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज हम सभी क्रांतिवीरों को प्रणाम करते हैं और संकल्प लेते हैं कि उन्होंने देश के लिए अपनी जान दी, हम देश की प्रगति के लिए ही जीवित रहेंगे।

बता दें कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राजधानी भोपाल में शहीद स्मारक पर पुष्प अर्पित कर ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ कार्यक्रम की शुरुआत की। उन्होंने कार्यक्रम की शुरुआत से पहले कन्या पूजन किया। बता दें कि सीएम शिवराज अपने सभी कार्यक्रमों की शुरुआत करने से पहले कन्या पूजन किया करते हैं। अपने भाषण में मुख्यमंत्री ने कहा कि अमृत महोत्सव के अवसर पर 400 से अधिक जगहों पर कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं।