ब्रेकिंग
विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद छत्तीसगढ़ भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष होंगे किरण सिंह देव

CM शिवराज सिंह का एलान- मध्य प्रदेश में 30,000 से अधिक शहीदों के लिए युद्ध स्मारक स्थापित होंगे

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज राज्य में ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ की शुरुआत की। यह कार्यक्रम देश की आजादी के 75 साल पूरे होने पर पूरे देश में मनाया जा रहा है। बता दें कि भारत की आजादी को 15 अगस्त 2022 में 75 वर्ष हो जाएंगे। मोदी सरकार ने यह फैसला किया है कि देश की आजादी की 75वीं वर्षगांठ के 75 हफ्ते पहले से ही पूरे देश में आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रमों का आयोजन होगा, जिसके जरिए देशभक्ति का संदेश दिया जाएगा।

मध्य प्रदेश में इस कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि हमे सिखाया कि हमें स्वतंत्रता दिलाने में सिर्फ कुछ लोगों का योगदान है, लेकिन कई महान नेताओं को इतिहास की पुस्तकों से बाहर रखा गया। उन्होंने कहा कि आजादी के 75 साल पूरे होने की खुशी में प्रदेश में 30,000 से अधिक शहीदों के लिए युद्ध स्मारक स्थापित किए जाएंगे।

इसके साथ ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि एक तरफ महात्मा गांधी के नेतृत्व में सत्याग्रह चल रहा था तो दूसरी तरफ गरज रहे थे हमारे अमर शहीद नेताजी सुभाषचंद्र बोस जिन्होंने सबसे पहले मणिपुर और अंडमान निकोबार में तिरंगा झंडा लहरा कर भारत को स्वतंत्र करने का एलान कर दिया था। उन्होंने कहा कि शहीद-ए-आज़म भगत सिंह को फांसी की सजा हुई, अगर चाहते तो वह भाग सकते थे, लेकिन भागे नहीं। साथियों ने उन्हें छुड़ाने की योजना बनाई। यह जानकर भगत सिंह का चेहरा गुस्से से लाल हो गया। उन्होंने कहा कि एक भगत सिंह मरेगा तो हज़ारों भगत सिंह पैदा होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज हम सभी क्रांतिवीरों को प्रणाम करते हैं और संकल्प लेते हैं कि उन्होंने देश के लिए अपनी जान दी, हम देश की प्रगति के लिए ही जीवित रहेंगे।

बता दें कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राजधानी भोपाल में शहीद स्मारक पर पुष्प अर्पित कर ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ कार्यक्रम की शुरुआत की। उन्होंने कार्यक्रम की शुरुआत से पहले कन्या पूजन किया। बता दें कि सीएम शिवराज अपने सभी कार्यक्रमों की शुरुआत करने से पहले कन्या पूजन किया करते हैं। अपने भाषण में मुख्यमंत्री ने कहा कि अमृत महोत्सव के अवसर पर 400 से अधिक जगहों पर कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं।