ब्रेकिंग
Discovering Academic Term Papers जन-जन को जोड़ें "महाकाल लोक" के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता केंद्र का भी किया शुभारंभ विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों 'झूठ दिआं पंडां कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा स्कूल में भिड़ीं 3 शिक्षिकाएं, BSA ने तीनों को किया निलंबित दिल्ली से यूपी तक होती रही चेकिंग, औरैया में पकड़ा गया, हत्या का आरोप

लखीमपुर खीरी में मृत भाजपा कार्यकर्ताओं के भी घर जाना चाहती थीं प्रियांका गांधी वाड्रा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश का लखीमपुर खीरी जनपद सियासत का बड़ा अखाड़ा बन गया है। तिकुनिया में बीते रविवार को उपद्रव के बाद हिंसा में चार किसान सहित आठ लोगों की मौत के बाद मृतक के आश्रितों को 45-45 लाख रुपया की आर्थिक सहायता, परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी तथा इलाहाबाद हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज को जांच सौंपे जाने के बाद भी कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा संतुष्ट नहीं हैं।

लखनऊ से बहराइच के नानपारा में मृत किसान के घर जाने के लिए रवाना होने के दौरान प्रियांका गांधी वाड्रा ने कहा कि वह तो लखीमपुर खीरी में मृत भाजपा कार्यकर्ताओं के भी घर जाना चाहती थीं। उन्होंने कहा कि मैं तो भाजपा के जो कार्यकर्ता मरे हैं, उनके परिवार के लोगों से भी मिलना चाहती थी। मैने आईजी से पूछा भी लेकिन आईजी ने कहा कि वह लोग नही मिलना चाहते हैं। मैं उनके परिवार के प्रति संवेदना प्रकट करती हूं। कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी बुधवार को पीड़ित परिवारों से मिलकर भले ही गुरुवार को नई दिल्ली लौट गए, लेकिन प्रियांका गांधी वाड्रा का संघर्ष जारी है। प्रियांका गांधी वाड्रा ने कहा कि इन सभी को इंसाफ मिले, इसके लिए मैं लडूंगी। जब तक मंत्री बर्खास्त नहीं होगा और जब तक मंत्री का लड़का गिरफ्तार नहीं होगा तब तक तो मैं बिल्कुल अडिग रहूंगी। कल मैंने उन परिवारों को वचन दिया है

प्रियंका गांधी वाड्रा गुरुवार तड़के लखीमपुर खीरी से लखनऊ पहुंचीं । उनका साफ कहना है कि जब तक गृह राज्य मंत्री का इस्तीफा नहीं तब तक सत्याग्रह जारी रहेगा। लखीमपुर खीरी तथा बहाराइच के पीड़ित परिवार पैसे से नहीं न्याय से संतुष्ट होंगे। प्रियंका का गुरुवार को बहराइच के पीड़ित परिवारों से मिलने जाने का कार्यक्रम है। उन्होंने कहा कि पीड़ितों की आवाज उठाना हम सबकी नैतिक जिम्मेदारी है। आज तो नवरात्र का व्रत हूं। मां दुर्गा सभी का कल्याण करें। प्रियंका गांधी के नानपारा, बहराइच जाने की सूचना की घाघरा घाट पर सुरक्षा व्यवस्था काफी चाक चौबंद की जा रही है।

प्रियंका गांधी वाड्रा ने दो टूक कहा है कि सभी पीड़ितों को मुआवजा नहीं, न्याय चाहिए। गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा टेनी भी इस प्रकरण पर अपना इस्तीफा दें। प्रियंका ने कहा कि भले ही कुछ भी हो जाए, लेकिन दोषियों पर कार्रवाई होने तक उनकी लड़ाई जारी रहेगी। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियांका गांधी वाड्रा ने कहा कि जब तक गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष को गिरफ्तार नहीं किया जाता, तबतक में बिल्कुल अडिग रहूंगी। इस मामले में अभी तक किसी को भी न्याय नहीं मिला है। अजय कुमार मिश्रा के मंत्री रहते न्याय मिलेगा भी नहीं। उनके गृह राज्य मंत्री रहते सभी जांच एजेंसी दबाव में रहेगी। जब तक उनको हटाया या फिर मंत्री पद से बर्खास्त नहीं किया जाता, तब तक तो निष्पक्ष हो ही नहीं सकती। उनके मंत्री रहते कौन उनके खिलाफ रिपोर्ट देगा। प्रियांका गांधी वाड्रा ने कहा कि कल रात तीनों परिवारों ने एक ही बात कही कि मुआवजे से मतलब नहीं है, हमें न्याय चाहिए।