ब्रेकिंग
गर्मी के चलते वेस्टर्न रेलवे ने 12 एसी लोकल ट्रेनें शुरू की, जानें कहां से कहां तक हैं ये ट्रेन पुलिस की सराहनीय पहल, प्रतिभावान छात्राओं के घर-घर जाकर किया सम्मानित, बच्चों ने आईएएस, डाॅक्टर व सीए बनने की जताई ईच्छा MP में तालों में कैद भगवान! MLA आकाश विजयवर्गीय बोले- जल्द खुलेगा बोलिया सरकार छत्री का शिव मंदिर एलपीजी गैस सिलेंडर पर लेना चाहते हैं सब्सिडी, फॉलो करें यह आसान प्रोसेस सूरज की तपिश से बादलाें ने दिलाई राहत बोरिंग माफियाओं की मनमानी से इंदौर में गहराया जल संकट नहीं रोक लगा पा रहा नगर निगम, आज भी रोजाना हो रहे 20-25 अवैध बोरिंग चीनी विमान जानबूझकर नीचे लाकर क्रैश कराया गया था श्रीराम सेना का दावा- कर्नाटक में 500 अवैध चर्च ग्राम देवादा में जल सभा का आयोजन एक ही परिवार के 3 लोगों के मर्डर का खुलासा, परिजन ही निकले हत्यारे, ये बनी हत्या की वजह

अमित शाह बोले- असम से अगले 5 साल में पूरी तरह खत्म कर देंगे घुसपैठ

तिनसुकिया। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह दो दिवसिय असम के चुनावी दौरे पर हैं। इस दौरान तिनसुकिया में रैली को संबोधित करेते हुए उन्होंने कहा कि हम जो कहते हैं, वो करते हैं। 5 साल के बाद असम में न आंदोलन है, न आतंकवाद है। शांति के साथ प्रदेश में विकास हो रहा है। उन्होंने कहा कि आने वाले पांच सालों में असम से घूसपैठ को पूरी तरह से खत्म कर देंगे। असम में विधानसभा की 126 सीटों के लिए 27 मार्च से मतदान होगा।

अमित शाह ने कहा कि असम को घुसपैठियों से मुक्त कने का काम लगभग पूरा हो चुका है। हमने कहा था कि असम को आतंकवाद से मुक्त करेंगे, लगभग 2000 से ज्यादा लोगों ने हथियार डालकर मुख्यधारा में वापसी की है। भाजपा को एक और 5 साल दे दीजिए असम के लिए घुसपैठ भूतकाल बन जाएगी। यहां कभी घुसपैठ नहीं होने वाला। सर्वानंद सोनोवाल ने ऐसी सरकार चलाई है कि पांच साल तक विपक्ष भी हम पर भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा सकता।

गृह मंत्री ने कहा कि असम की जनता के पास में आने वाले विधानसभा चुनाव में दो विकल्प हैं। एक विकल्प, सर्वानंद सोनोवाल के नेतृत्व वाला भाजपा व असम गण परिषद का है, जबकि दूसरा विकल्प राहुल गांधी और बदरुद्दीन अजमल के नेतृत्व का है।

उन्होंने कहा कि 15 साल तक यहां कांग्रेस की सरकार थी उन्होंने चाय बागान के लिए क्या किया? हमारी सरकार ने चाय बागान में मजदूरी मुआवजा योजना के तहत गर्भवती महिलाओं के लिए 12,000 रुपये देना शुरू किया है। अब यह राशि 18,000 रुपये की गई है।