ब्रेकिंग
विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा सत्तापक्ष पर जमकर बरसे विधायक शिवरतन शर्मा, आरक्षण रुकवाने जो लोग कोर्ट गए उन्हें मुख्यमंत्री जी पुरस्कृत करते हैं,सत्र ... Selecting the right Virtual Info Room Supplier रायपुर विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा में आरक्षण बिल के दौरान ब्राह्मण नेताओं पर जमकर बरसे बलौदाबाजार विधायक प्रमोद शर्मा, उनके मुंह पर करारा तमाचा मार... Making a Cryptocurrency Beginning अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद भाटापारा नगर इकाई की हुई घोषणा मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने मंडी समिति के नए सदस्य को दिलाई शपथ, उद्बोधन में कहा भारसाधक पदाधिकारीयो की नियुक्ति के बाद से मंडी लगातार चहुमुखी विकास क... मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने धान ख़रीदी केंद्रो का निरीछन कर, धान बेचने आये किसानो से मुलाक़ात कर, धान बेचने में आने वाली समस्या की जानकारी ली, किसानों... ग्राम मर्राकोना में नवीन धान उपार्जन केंद्र के शुभारंभ अवसर पर मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने कहा भूपेश सरकार किसानों की सरकार है ग्राम मर्राक़ोंना में नवीन धान उपार्जन केंद्र को मिली हरी झंडी मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने दी जानकारी ट्रक चोरी करने वाले 06 आरोपियो को किया गया गिरफ्तार, मंडी के पास लिंक रोड के किनारे खड़ी ट्रक को किया था चोरी, उड़ीसा से हुई बरामद

अमित शाह बोले- असम से अगले 5 साल में पूरी तरह खत्म कर देंगे घुसपैठ

तिनसुकिया। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह दो दिवसिय असम के चुनावी दौरे पर हैं। इस दौरान तिनसुकिया में रैली को संबोधित करेते हुए उन्होंने कहा कि हम जो कहते हैं, वो करते हैं। 5 साल के बाद असम में न आंदोलन है, न आतंकवाद है। शांति के साथ प्रदेश में विकास हो रहा है। उन्होंने कहा कि आने वाले पांच सालों में असम से घूसपैठ को पूरी तरह से खत्म कर देंगे। असम में विधानसभा की 126 सीटों के लिए 27 मार्च से मतदान होगा।

अमित शाह ने कहा कि असम को घुसपैठियों से मुक्त कने का काम लगभग पूरा हो चुका है। हमने कहा था कि असम को आतंकवाद से मुक्त करेंगे, लगभग 2000 से ज्यादा लोगों ने हथियार डालकर मुख्यधारा में वापसी की है। भाजपा को एक और 5 साल दे दीजिए असम के लिए घुसपैठ भूतकाल बन जाएगी। यहां कभी घुसपैठ नहीं होने वाला। सर्वानंद सोनोवाल ने ऐसी सरकार चलाई है कि पांच साल तक विपक्ष भी हम पर भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा सकता।

गृह मंत्री ने कहा कि असम की जनता के पास में आने वाले विधानसभा चुनाव में दो विकल्प हैं। एक विकल्प, सर्वानंद सोनोवाल के नेतृत्व वाला भाजपा व असम गण परिषद का है, जबकि दूसरा विकल्प राहुल गांधी और बदरुद्दीन अजमल के नेतृत्व का है।

उन्होंने कहा कि 15 साल तक यहां कांग्रेस की सरकार थी उन्होंने चाय बागान के लिए क्या किया? हमारी सरकार ने चाय बागान में मजदूरी मुआवजा योजना के तहत गर्भवती महिलाओं के लिए 12,000 रुपये देना शुरू किया है। अब यह राशि 18,000 रुपये की गई है।