ब्रेकिंग
विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद छत्तीसगढ़ भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष होंगे किरण सिंह देव

कोविड महामारी से लड़ने को लेकर देश की तीनों सेनाओं ने उतारा युद्ध के लिए तैयार नर्सिंग स्टाफ

नई दिल्ली। सुरक्षा बलों ने युद्ध के मैदान के लिए तैयार किए अपने नर्सिंग स्टाफ को अब कोविड-19 महामारी से मुकाबले के लिए मैदान में उतार दिया है। उनसे कहा गया है कि वे राज्य सरकारों की चिकित्सा व्यवस्था से तालमेल बनाकर कार्य करें।

लेफ्टिनेंट जनरल कानितकर ने कहा- सेवा में सहायता दे रहे स्वयंसेवकों को करेंगे प्रशिक्षित 

इंटिग्रेटेड डिफेंस स्टाफ (मेडिकल) की उप प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल माधुरी कानितकर ने कहा है कि उन्हें उम्मीद है कि यह खास प्रशिक्षित नर्सिंग स्टाफ अस्पतालों में सेवा कार्य कर रहे कार्यकर्ताओं को भी सिखाएगा कि बीमार के लिए सबसे पहले क्या जरूरी है। किन तरीकों से महामारी से बेहतर ढंग से लड़ा जा सकता है।

तीनों सेनाओं ने कोरोना महामारी को भगाने के लिए ऑप्स को-जीत अभियान चलाया

तीनों सेनाओं ने उपलब्ध संसाधनों को बेहतर ढंग से इस्तेमाल के लिए ऑप्स को-जीत अभियान चलाया हुआ है। इसके तहत नर्सिग स्टाफ को कोविड केयर सेंटर में तैनात कर महामारी को भगाया जा रहा है।

युद्ध की स्थितियों में दिया गया प्रशिक्षण कोविड के दौरान काम आ रहा

बैटिलफील्ड नर्सिंग असिस्टेंट (बीएफएनए) को मुख्य रूप से युद्ध की स्थितियों में स्वास्थ्य सुविधाओं को अंजाम देने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है। इस दौरान उन्हें इंजेक्शन लगाने, श्वांस लेने के लिए जरूरी एक्सरसाइज कराने आदि का प्रशिक्षण दिया जाता है। कोविड के दौरान यह प्रशिक्षण बहुत काम आ रहा है।

कोरोना से लोगों की जान बचाने के लिए तीनों सेनाओं ने अपने कर्मी और संसाधन राज्यों को सौंपे

तीनों सेनाएं महामारी से लड़ने के लिए अपने कर्मियों और संसाधनों की मदद राज्य सरकारों को दे रही हैं जिनका इस्तेमाल कर वे नागरिकों की जान बचा सकें।

लेफ्टिनेंट जनरल कानितकर ने कहा- सामाजिक संगठन आगे आएं और मरीजों की सेवा में जुट जाएं

लेफ्टिनेंट जनरल कानितकर ने कहा, इस समय जरूरत इस बात की है कि सामाजिक संगठन आगे आएं और अपने कार्यकर्ताओं की मदद से मरीजों के सेवा कार्य को आगे बढ़ाएं। ये लोग टेस्टिंग के कार्य में भी मदद दे सकते हैं। इन लोगों को प्रशिक्षण देने में बीएफएनए मदद कर सकता है। हम ऐसी व्यवस्था बना सकते हैं कि कुछ लोग 25 मरीजों की देखभाल की जिम्मेदारी संभाल सकें।