ब्रेकिंग
सतगुरू कबीर संत समागम समारोह दामाखेड़ा पहुंच कर विधायक इन्द्र साव ने लिया आशीर्वाद विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद

वैक्सीन उत्पादन बढ़ाने के लिए पूरी कोशिश जारी : अदार पूनावाला

नई दिल्ली।  देश में कोरोना टीके की कमी के बीच सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआइआइ) के प्रमुख अदार पूनावाला ने शनिवार को कहा कि वैक्सीन की मांग को पूरा करने के लिए उत्पादन में तेजी लाने की पूरी कोशिश की जा रही हैं। एसआइआइ के सीईओ अदार पूनावाला ने एक ट्वीट में कहा कि संस्थान भारतीय बाजार में प्राथमिकता से टीका उपलब्ध कराने की पूरी कोशिश कर रहा हैं।

उन्होंने जेएसडब्ल्यू के चेयरमैन सज्जन जिंदल के ट्वीट का जवाब देते हुए कहा, ‘सीरम इंस्टीट्यूट में हम भारत के लिए प्राथमिकता से वैक्सीन उत्पादन बढ़ाने और नई वैक्सीन उतारने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। हम जेएसडब्ल्यू के देश में चिकित्सीय ऑक्सीजन की आपूर्ति को पूरा करने के प्रयासों के लिए आभारी हैं। हम इस महामारी के खिलाफ इस लड़ाई में एक साथ खड़े हैं।’

दरअसल, इससे पहले सज्जन जिंदल ने एसआइआइ, पूनावाला, भारत बायोटेक और उसके प्रबंध निदेशक कृष्णा एल्ला को ट्वीटर पर टैग कर कहा था, ‘कोरोना संक्रमण से जीतने का एक मात्र विकल्प देश में सभी को टीका लगाना है। भारत बायोटेक और सीरम इंस्टीट्यूट द्वारा अपनी उत्पादन क्षमताओं को बढ़ाते हुए देखना बेहद अच्छा है।’

पिछले महीने सीरम इंस्टीट्यूट ने अमेरिका से वैक्सीन का कच्चा माल देने की गुजारिश की थी। लेकिन अब तक कच्चे माल की आपूर्ति नहीं हो पाई है। पिछले दिनों सीरम इंस्टीट्यूट के प्रमुख अदार पूनावाला ने कहा कि उन्होंने वैक्सीन उत्पादन से जुड़े कच्चे माल की सप्लाई पर लगी रोक को हटाने के लिए अमेरिका के राष्ट्रपति से गुजारिश की थी। इस पर उन्हें कच्चे माल की आपूर्ति का भरोसा दिया गया था, लेकिन अब तक अमेरिका से इसकी प्राप्ति नहीं हुई है।

विशेषज्ञों के मुताबिक, अमेरिका वैक्सीन उत्पादन के बौद्धिक संपदा अधिकार में छूट के लिए राजी हुआ है। वैक्सीन उत्पादन के लिए जरूरी कच्चे माल के उत्पादन को लेकर अभी इस प्रकार की कोई रजामंदी नहीं हुई है। वैक्सीन उत्पादन से जुड़े फिल्टर्स, ट्यूबिंग, डिस्पोजेबल बैग जैसे कच्चे माल पर अमेरिका का वर्चस्व है।