ब्रेकिंग
विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद छत्तीसगढ़ भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष होंगे किरण सिंह देव

बैंककर्मी ने मदद के लिए बनाई ‘कोविड आर्मी फार इंदौर’

इंदौर। एक निजी बैंक में काम करने वाले युवक ने कोरोना की दूसरी लहर में लोगों को परेशान देखकर कोविड आर्मी फार इंदौर बना दी। इसकी वेबसाइट बनाई और कोरोना से जुड़ी हर चीज के लिए 150 वालेंटियर निशुल्क सेवा दे रहे हैं। वहीं अभी सबसे जरूरी प्लाज्मा के लिए लगातार काम किया जा रहा है। इंदौर में रहने वाले चिन्मय बक्षी एक निजी बैंक में डेटा साइंटिस्ट हैं लेकिन उन्होंने कोरोना पीड़ितों की मदद करने के लिए एक नवाचार किया है। मूल रूप से इंजीनियर चिन्मय बताते हैं लोगों को परेशान देख मेरे मन में उनकी मदद करने का विचार आया। इसके बाद मैंने वार रूम के नाम से इंटरनेट मीडिया पर कुछ ग्रुप बनाए। जिसमें धीरे-धीरे 150 वालेंटियर जुड़ गए। हम लोगों ने आक्सीजन, रेमडेसिविर इंजेक्शन और अन्य जरूरत की चीजों को उपलब्ध करवाने का काम शुरू किया। हमने हमारे समूह को कोविड आर्मी फार इंदौर नाम दिया है।

प्लाज्मा के लिए जुट गए : बक्षी ने बताया कि अब जब प्लाज्मा की डिमांड ज्यादा आ रही तो मेरे कुछ दोस्तों अमीषा राजानी, नेहल दाया, चिराग जैन, नमन जैन और अश्विन सैम्यूल ने एक वेबसाइट कोविड डेश इंडिया ओआरजी बना दी। एक सप्ताह में हमारी साइट को डेढ़ लाख हिट मिल चुके हैं। जिसमें प्लाज्मा देने वाले और प्लाज्मा चाहने वाले दोनों रजिस्टर करते हैं। दोनों इसके अपडेट को देख सकते हैं। हम लोग कई मरीजों को प्लाज्मा उपलब्ध करवा चुके हैं।

अस्पताल जाने से घबरा रहे डोनर

बक्षी ने बताया कि सबसे अधिक परेशानी लोगों का डर है। जो लोग ठीक हो चुके हैं वे प्लाज्मा देना तो चाहते हैं, लेकिन अस्पताल जाने से डरते हैं कि कहीं कोरोना उन्हें दोबारा चपेट में ना ले ले। इसलिए हम उनकी काउंसलिंग करते हैं। हम डोनर को यह भी भरोसा देते हैं कि उनका नंबर सार्वजनिक नहीं होगा।