ब्रेकिंग
सतगुरू कबीर संत समागम समारोह दामाखेड़ा पहुंच कर विधायक इन्द्र साव ने लिया आशीर्वाद विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद

चीन पर भड़के ट्रंप ने कहा- देना होगा दुनिया को मुआवजा, वुहान लैब से ही निकला था कोरोना वायरस; सही था मेरा बयान

वाशिंगटन। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने महामारी कोविड-19 के लिए चीन को ही जिम्मेदार बताया था और कोरोना वायरस को चीनी वायरस तक करार दिया था। अब जब यह सबके सामने आ गया है तब ट्रंप ने कहा, ‘ सबने यहां तक कि दुश्मन बताने वालों ने भी कहना शुरू कर दिया है कि वुहान के लैब से चीन के वायरस के आने की बात कहने वाले राष्ट्रपति ट्रंप सही थे। इस महामारी से होने वाली मौतों और नुकसान की भरपाई के लिए चीन को अमेरिका और दुनिया को 10 ट्रिलियन का भुगतान करना चाहिए।’

गुरुवार को महामारी के लिए चीन पर एक बार फिर भड़कते हुए पूर्व राष्ट्रपति ने कहा कि उनके पूर्ववर्ती बराक ओबामा प्रशासन ने बेवकूफी की और वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी के लिए फंडिग किया। उन्होंने कहा कि महामारी के कारण अमेरिका समेत दुनिया भर को हुए भारी नुकसान की क्षतिपूर्ति के लिए चीन को 10 ट्रिलियन का भुगतान करना होगा। उन्होंने कहा कि तुरंत ही वुहान के फंडिंग को खत्म कर दिया था। ट्रंप ने कहा, ‘जब मैंने इस बारे में सुना तब, मैंने कहा- किसी हालत में नहीं दिया जाएगा फंड।’ ट्रंप ने यह भी जिक्र किया कि महामारी की शुरुआत में ही उन्होंने चीन के साथ सीमा बंद कर दी थी जिसपर संक्रामक रोक के विशेषज्ञ डॉक्टर फॉसी ने आपत्ति जताई थी।

बता दें कि 2020 के 11 मार्च को विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा महामारी घोषित किए गए कोविड-19 की शुरुआत चीन से ही हुई थी। दरअसल 2019 के अंत में चीन के वुहान में नॉवेल कोरोना वायरस के संक्रमण का पहला मामला सामने आया था जिसने दो-तीन माह के भीतर ही पूरी दुनिया को चपेट में ले लिया।