ब्रेकिंग
विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद छत्तीसगढ़ भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष होंगे किरण सिंह देव

नियुक्ति को लेकर शिक्षा मंत्री से मिला डीएड-बीएड संघ, नहीं निकला कोई नतीजा

रायपुर। छत्तीसगढ़ में चयन सूची जारी होने के बाद दो वर्ष से नियुक्ति का इंतजार कर रहे डीएड-बीएड संघ ने मंगलवार को शिक्षा मंत्री डा. प्रेमसाय टेकाम से मुलाकात की। मंत्री ने संघ के प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात तो की, लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। इसके बाद संघ ने आंदोलन जारी करने की घोषणा की है।

बीएड-डीएड संघ के अभ्यर्थियों से मुलाकात के बाद शिक्षा मंत्री ने कहा कि कोराना का संक्रमण खत्म होने और स्कूल खुलने के बाद शिक्षकों को नियुक्ति दी जाएगी। हालांकि उन्होंने यह भी कहा है कि इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री से बातचीत करेंगे। दरअसल नियुक्ति को लेकर आज शिक्षक भर्ती के चयनित अभ्यर्थियों ने रायपुर में डेरा डाला था, हालांकि उन्हें प्रदर्शन की अनुमति नहीं मिली, जिसके बाद दोपहर उन सभी ने शिक्षा मंत्री से मुलाकात की।

बीएड-डीएड संघ ने आंदोलन जारी रखने की बात कही है। सभी 30 जून तक अपने-अपने घरों के बाहर धरना देंगे। संघ के पदाधिकारियों ने कहा कि अगर उनकी मांगों पर जल्द विचार नहीं किया गया तो वो परिवार सहित राजधानी में प्रदर्शन करेंगे।