ब्रेकिंग
विधायक शिवरतन शर्मा ने विधानसभा में उठाए प्रश्नो एवं विकाश कार्यों की मांगों को लेकर की पत्रकारवार्ता किसानो का धान प्रति एकड़ २०क्वींटल ख़रीदी करेगी भूपेश सरकार-सुशील शर्मा किसानो की हमदर्द भूपेश सरकार-सुशील शर्मा छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह के घर से ईडी निकली बाहर, आरपी सिंह को ईडी अपने साथ दफ्तर ले गई छत्तीसगढ़ कांग्रेस नेता गिरीश देवांगन, देवेंद्र यादव, रामगोपाल अग्रवाल, सन्नी अग्रवाल, विनोद तिवारी, आरपी सिंह के घर सुबह ईडी छापा छत्तीसगढ़। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के करीबी कांग्रेसी नेताओं घर में ईडी की रेड गिरीश देवांगन, रामगोपाल अग्रवाल, सन्नी अग्रवाल, विनोद तिवारी के घर पर पड... नजूल शाखा का भाटापारा से बलौदाबाजार जाना दुर्भाग्यपूर्ण -आशीष जायसवाल किसान हित में भूपेश सरकार समर्पित-सुशील शर्मा छत्तीसगढ़ में बीजेपी की सरकार बनेगी और सीएम आदिवासी होगा- पूर्व गृहमंत्री ननकीराम कंवर छत्तीसगढ़।पिछड़े सुदूर इलाके में पैर पसार कर अब धर्मांतरण कि आंच शहर तक पहुंच रही, कोचिंग सेंटर में धर्मांतरण जैसी गतिविधियों को संचालित करने का मामला...

मुख्यमंत्री को एक बार सोनिया गांधी से परामर्श लेना चाहिये : शिवरतन शर्मा


भाटापारा। भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष व वरिष्ठ विधायक शिवरतन शर्मा ने कहा कि विकास विरोधी कांग्रेस की सरकार को मरवाही की जनता करारा जवाब देगी। बदहाल सड़कें और क्षेत्र में व्याप्त समास्याओं से परेशान जनता अब बदलाव का मन बन चुकी है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में सबको अपने बातें कहने का अधिकार है लेकिन कांग्रेस की सरकार अलोकतंत्रिक प्रक्रिया अपना केवल लोकतंत्र की हत्या करने में जुटी है। विधायक शर्मा ने कहा कि अमित जोगी और ऋचा जोगी के नामांकन निरस्त करने के मामले एक मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को अपनी नेता सोनिया गांधी को परामर्श जरूर कर लेना था। जब स्व. अजीत जोगी के कुल का कोई आदिवासी नहीं तो फिर किस आधार पर स्व.जोगी को छत्तीसगढ़ का मुख्यमंत्री बनाने की घोषणा सोनिया गांधी ने की थी?। तब उनकी जाति के बारे में क्या कांग्रेस आलाकमान को पता नहीं था?
श्री शर्मा ने कहा कि साथ ही सोनिया गांधी को यह भी बताना चाहिये कि स्व. जोगी आदिवासी नहीं थे तो उन्हें कांग्रेस अनुसूचित जनजाति विभाग के देश का प्रमुख कैसे बना दिया था? इस पर भी कांग्रेस को जवाब देना चाहिये कि कौन सही है- सोनिया गांधी या मुख्यमंत्री भूपेश बघेल? इन सारे सवालों का जवाब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को देना चाहिये।
उन्होंने मरवाही में जनसंपर्क अभियान के दौरान ने कहा कि पूरे प्रदेश में माफिया राज कायम है। रेत से लेकर अवैध शराब के बिक्री को लेकर तस्कर मस्त है इसके बाद भी कार्रवाई के नाम पर कुछ भी नहीं हो रहा है। पूरे प्रदेश में अपराध की घटनायें बढ़ी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस केवल सत्ता सुख में व्यस्त है। किसी की कोई चिंता नही है। हर तरफ भय का वातावरण है। यही समय है कि निरकुश सरकार को करारा जवाब दिया जाना चाहिये। उन्होंने मरवाही के समग्र विकास के लिये भाजपा प्रत्याशी डॉ. गंभीर सिंह को समर्थन देने की अपील की है।इस दौरान उनके साथ मनीष मिश्रा,आनंद यादव भी उपस्थित रहे।