ब्रेकिंग
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट का किया वर्चुअल भूमि पूजन कुतुब मीनार परिसर में होगी खुदाई-मूर्तियों की Iconography राष्ट्रीय स्तर के खेलों का आधारभूत ज्ञान दें विद्यार्थियों को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत जिले के 13 हजार 976 किसानों के खाते में 9.68 करोड़ रूपए किया अंतरण नगरीय निकाय आरक्षण को लेकर बड़ी खबर: भोपाल में भी नए सिरे से होगा आरक्षण, बढ़ सकती है ओबीसी वार्डों की संख्या छत्तीसगढ़ की जैव विविधता छत्तीसगढ़ का गौरव है : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मोतिहारी के सिकरहना नदी में नहाने के दौरान तीन बच्चे डूबे मुजफ्फरपुर में प्रिंटिंग प्रेस कर्मी की गोली मारकर हत्‍या  दो माह में 13 बार बढ़ी सीएनजी की कीमत हार्दिक के जाने के बाद नरेश पटेल को रिझाने में जुटी कांग्रेस

श्रीलंका के बल्लेबाज को आउट देकर फंसे थर्ड अंपायर, सोशल मीडिया पर हो रही आलोचना

नई दिल्ली। श्रीलंका और वेस्टइंडीज के बीच खेले गए तीन वनडे मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले में एक ऐसा फैसला देखने को मिला जो लेकर विवाद हो गया है। श्रीलंका के बल्लेबाज दनुष्का गुणातिलका को थर्ड अंपायर ने फील्डिंग में बाधा पहुंचाने के लिए आउट करार दिया। जबकि वीडियो को देखकर ऐसा लगता है कि जैसे वह गेंद और फील्डर के बीच आ गए थे उन्होंने जानबूझकर ऐसा नहीं किया।

वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए पहले वनडे में श्रीलंका के बल्लेबाज गुनातिलका को ऑब्स्ट्रकटिंग द फील्ड या फिल्डिंग में बाधा पहुंचाने के लिए आउट दिया गया। मैच के 22 वें ओवर में कप्तान कीरोन पोलार्ड की गेंद पर गुणातिलका ने एक रक्षात्मक शॉट खेला गेंद उनके पैर के पार गिरी। नॉन स्ट्राइक पर खड़े उनके साथ पथुम निसांका ने रन लेने के लिए दौड़ लगाई। इसपर उनको रोकने की कोशिश में गुनातिलका गेंद के करीब आ गए।

यहां उनका संतुलन बिगड़ा और वह पीछे की तरफ लड़खड़ा गए। इस दौरान गेंद को उठाने की कोशिश कर रहे वेस्टइंडीज के खिलाड़ियों ने अंपायर से आउट की अपील कर दी। फील्ड अंपायर ने फैसले के लिए थर्ड अंपायर का रुख किया और उन्होंने रिप्ले देखने के बाद गुणातिलका को आउट करार दिया।

इस फैसले के आने के बाद तमाम क्रिकेट के जानकारों ने इस पर आपत्ति जताई।

टॉम मूडी ने इसे गलत फैसला बताया को संजय मांजरेकर ने इसपर सहमति जताई।

एक यूजर ने लिखा, कि वीडियो देखने के बाद पता चलता है कि गुनातिलका ने जानबूझकर कुछ भी नहीं किया। उनको नॉट आउट दिया जाना चाहिए था।