ब्रेकिंग
सतगुरू कबीर संत समागम समारोह दामाखेड़ा पहुंच कर विधायक इन्द्र साव ने लिया आशीर्वाद विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद

ऑनलाइन परीक्षा की मांग, एनएसयूआई ने विश्वविद्यालय को घेरा, परीक्षाएं स्‍थगित

रायपुर। पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय परिसर में शुक्रवार को एनएसयूआई के छात्र छात्राओं ने जमकर हंगामा मचाया। छात्रों की मांग है ऑनलाइन परीक्षा कराई जाए। छात्रों को ऑफलाइन परीक्षा देने में दिक्कत होगी। छात्रों का कहना है कि कोरोना वायरस संक्रमण के कारण पढ़ाई नहीं हो पाई है और अब परीक्षा होने से संक्रमण फैलने का खतरा हो रहा है।

गौरतलब है कि रविशंकर विश्वविद्यालय ने प्रथम सेमेस्टर के एग्जाम आगामी आदेश तक स्थगित किए गए हैं। छत्तीसगढ़ में लगातार कोरोना अब खतरनाक रूप लेता जा रहा है। लिहाजा यूनिवर्सिटी ने भी एग्जाम को आगामी आदेश तक स्थगित कर दिया है। अब पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय ने प्रथम सेमेस्टर की परीक्षाओं को तत्काल प्रभाव से स्थगित कर दिया है।

स्नातक स्तर पर बीए, बीएससी ,बीकाम समेत अन्य पाठ्यक्रम में अब 100 की बजाय 90 अंक का प्रश्न पत्र होगा। 10 अंक आंतरिक मूल्यांकन के होंगे। इस बार बदले हुए पैटर्न पर मूल्यांकन होगा। ऐसे में जो विद्यार्थी नियमित कालेज जाते हैं उनको 10 अंक का फायदा मिल सकेगा। कालेजों में अब 10 अंक आंतरिक मूल्यांकन से मिलेंगे। नई व्यवस्था आगामी सेमेस्टर परीक्षा से ही लागू हो जाएगी।