Jain
ब्रेकिंग
रमा देवी बंशीलाल गुर्जर और नम्रता प्रितेश चावला के नाम पर चल रहा मंथन महिलाओं की उंगलियां होती है ऐसी, स्वभाव से होती हैं गंभीर और बड़ी खर्चीली इन चीजों से किडनी हो सकती है खराब दिल्ली से किया था नाबालिग को अगवा, CCTV फुटेज से आरोपियों की हुई थी पहचान गृह विभाग में अटकी फ़ाइल, क्या रिटायर्ड होने के बाद होगा प्रमोशन एशिया कप के लिए टीम का ऐलान आज वास्तु की ये छोटी गलतियां कर सकती हैं आपका बड़ा नुकसान, खो सकते हैं आप अपना कीमती दोस्त आय से अधिक संपत्ति मामले में शिबू सोरेन को लोकपाल का नोटिस बाइक से कोरबा लौटने के दौरान हादसा, दूसरे जवान की हालत गंभीर; पुलिस लाइन में पदस्थ थे दोनों | road accident in chhattisharh; bike rider chhattisgarh p... खरीदें Redmi का शानदार 5G स्मार्टफोन

Chhattisgarh Sports News : महिला फुटबाल लीग में माता रुक्मणी एफसी ने बजाया डंका

जगदलपुर। Chhattisgarh Sports News : दुर्ग में चल रहे महिला फुटबाल लीग में बस्तर संभाग का प्रतिनिधित्व कर रही माता रुक्मणी फुटबाल क्लब डिमरापाल ने प्रतिद्वंदी टीमों के बीच खलबली मचा दी है। अभी तक खेले गए अपने तीन मैचों में ही 21 गोल दागकर इस टीम ने अपना डंका पीट दिया है।

क्लब ने रविवार को दुर्ग की यूनिवर्सल फुटबाल क्लब को एकतरफा मुकाबले में 7-0 से हराया। टीम के लिए सबसे ज्यादा तीन गोल प्रियंका कश्यप ने दागे। संध्या कश्यप, कृतिका पोयाम, रीता कश्यप व पायल कवासी ने एक-एक गोल किया। खेल के 19वें मिनट में प्रियंका ने पहला गोल दागकर टीम का खाता खोला। इसके बाद 22वें मिनट में संध्या और 26वें मिनट में प्रियंका ने फिर एक गोल दागकर यूनीवर्सल फुटबाल क्लब पर दबाव बढ़ा दिया।

गोल दागने का सिलसिला इसके बाद भी जारी रहा और 40वें मिनट में रीता कश्यप, 51 वें मिनट में कृतिका, 85 वें मिनट में प्रियंका और खेल के अंतिम क्षणों में 89 वें मिनट में पायल के गोल के साथ मुकाबला खत्म हुआ। इसके पहले माता रुक्मणी फुटबाल क्लब ने प्रतियोगिता में अपने पहले मैच में बीएमवाय चरोदा महिला फुटबाल क्लब को 11-0 से और दूसरे मैच में जेएल फुटबाल क्लब रायपुर को तीन-एक से हराया है। छत्तीसगढ़ फुटबाल संघ, दुर्ग जिला फुटबाल संघ और भिलाई इस्पात संयंत्र के संयुक्त तत्वावधान में पंत स्टेडियम में आठ से 22 मार्च तक प्रतियोगिता चलेगी।

लीग आधार पर हो रही प्रतियोगिता में हर टीम छह-छह मैच खेलेगी। लीग में टाप में रहने वाली दो टीमें फाइनल मुकाबले में उतरेंगी। तीन मैचों में माता रुक्मणी महिला फुटबाल क्लब की ओर से दागे गए 21 गोल में सबसे अधिक प्रियंका ने सात, संध्या ने तीन, कृतिका ने पांच, रीत ने दो और एक गोल पायल ने नाम है। इसमें संध्या और प्रियंका की हैट्रिक रही है।

बस्तर की टीम में सभी खिलाड़ी आदिवासी

माता रुक्मणी महिला फुटबाल क्लब की सभी खिलाड़ी आदिवासी वर्ग की हैं। संस्था के अध्यक्ष एवं टीम मैनेजर पद्मश्री धर्मपाल सैनी ने नईदुनिया से फोन पर चर्चा में कहा कि उन्हें अपनी टीम पर गर्व है। टीम का फारवर्ड और डिफेंस दोनों काफी मजबूत है। अभी तक खेले गए तीनों मैचों में माता रुक्मणी महिला फुटबाल क्लब की खिलाड़ियों ने शानदार खेल दिखाकर प्रतियोगिता में बस्तर के नाम की धूम मचा दी है

प्रदेश की मजबूत टीम

टीम की कोच कविता ठाकुर के अनुसार यह टीम प्रदेश स्तर पर काफी मजबूत टीम बनकर उभरी है। टीम के अभी तक के प्रदर्शन के आधार पर टीम का फाइनल पहुंचना लगभग तय है। फाइनल 22 मार्च को खेला जाएगा। स्पर्धा में दुर्ग जिले से तीन टीमें यूनिवर्सल महिला फुटबाल क्लब, एमजीएम एंबुश और बीएमवाई चरोदा तथा रायपुर जिले से जेएल फुटबाल एकेडमी, जेआरसी और रायपुर फुटबाल क्लब भी भाग ले रहे हैं।